असम में एनआरसी का अंतिम मासौदा जारी होने के बाद केंद्र आैर राज्य सरकार के द्वारा जारी निर्देश के तहत अरुणाचल में एक अगस्त से प्रशासन ने अवैध नागरिकों के खिलाफ अभियान शुरू कर दिया हैं। प्रशासन ने राज्य के प्रवेश द्वारा पर बाहर से आने वाले सभी वाहनों  में तलाशी चलाकर अन्य राज्याें के नागरिकाें के प्रवेश पत्र की जांच शुरू कर दी है। इस अभियान में अरूणाचल के छात्र संगठन ने मुख्य भूमिका निभाते हुए हजारों लाेगों को राज्य में घुसने से रोका है।

अरुणाचल के छात्र संगठन ने हाल ही में आयाेजित एक संवाददाता सम्मेलन में बताया कि राज्य में बिना प्रवेश के रह रहे लोगों को राज्य छाेड़ने के लिए 15 अगस्त तक का समय दिया गया है। बता दें कि छात्र संगठन ने आने वाले 17 अगस्त से अरुणाचल प्रदेश के सभी जिलों में बांग्लादेशी सफार्इ अभयान चलाने का फैसला किया है। शुरूआत में राज्य की राजधानी र्इटानगर समेत इसके पास के इलाके नाहरलागुन आैर दोर्इमुख में अभियान चलाया जाएगा।

छात्र संगठन की आेर से घर घर जाकर अभियान चलाने के बाद सभी व्यवसायिक स्थल, उद्याेग, कार्यालस में प्रवेश पत्र के साथ रह रहें लोगों की शिनाख्त की जाएगी। इस अभियान के दौरान पकड़ै गए लोगों के साथ कानूनी कार्यवार्इ की जाएगी। ताे वहीं अरुणाचल प्रदेश में  असम, बिहार, पश्चिम बंगाल के उपरांत देश के अन्य राज्यों से आए व्यवसायिक अनुज्ञा-पत्रधारी भारतीय नागरिक आैर व्यवसायियों को परेशान किए जाने की  असम अल्पसंख्यक छात्र संगठन ने आशंका जतार्इ हैं