भारत दौरे पर आई बांग्लादेश की प्रधानमंत्री शेख हसीना ने एनआरसी को लेकर बयान दिया है। उन्होंने कहा असम के राष्ट्रीय नागरिक रजिस्टर से बांग्लादेश को किसी तरह की कोई दिक्कत नहीं है। उन्होंने कहा कि इसको लेकर न्यूयार्क में ही पीएम मोदी से बात हो चुकी है। असम में हाल ही में एनआरसी की लिस्ट जारी की है। इस लिस्ट में लाखों लोग अपनी नागरिकता साबित नहीं कर पाए हैं। 

एनआरसी को लेकर जब बांग्लादेशी पीएम से पूछा गया कि क्या वह पीएम मोदी के आश्वासन से संतुष्ट है तो उन्होंने तुरंत कहा कि बेशक, मुझे एनआरसी को लेकर किसी भी तरह से कोई समस्या नहीं है। न ही इससे बांग्लादेश को कोई चिंता है। गौरतलब है कि पीएम मोदी UNGA के अधिवेशन में हिस्सा लेने न्यूयॉर्क गए थे। वहां उन्होंने बांग्लादेश की पीएम शेख हसीना से मुलाकात की थी। उस वक्त बांग्लादेशी पीएम ने एनआरसी को लेकर चिन्ता जाहिर की थी, जिसके बाद पीएम मोदी से सब बेहतर होगा का भरोसा दिया था।

बताते चलें कि एनआरसी सूची में नाम दर्ज करवाने के लिए असम से 3 करोड़ 30 लाख 27 हजार 661 लोगों ने आवेदन किया था। पिछले महीने जारी की गई अन्तिम सूची से 19,06,657 आवेदक बाहर रह गए, जिन लोगों को बाहर किया गया उन्हें घुसपैठिया नहीं माना गया है बल्कि उन्हें भी शामिल होने का मौका दिया गया है। असम सरकार ने कहा है कि जिनका नाम एनआरसी की लिस्ट में नहीं है उन्हें विदेशी ट्रिब्यूनल के सामने नागरिकता साबित करनी होगी।