किडनी हमारे शरीर का बहुत ही महत्वपूर्ण अंग है। किडनी हमारे शरीर से अपशिष्ट को बाहर निकालने में मदद करती है। साथ ही यह आपके शरीर को डिटॉक्सीफाई भी करता है। अगर हमारी किडनी ठीक से काम नहीं कर रही है तो शरीर में कई तरह की बीमारियां हो सकती हैं। खराब लाइफस्टाइल और गलत खान-पान की वजह से किडनी की समस्या बढ़ती जा रही है। अगर सही समय पर इलाज न किया जाए तो व्यक्ति की मौत भी हो सकती है। आइए जानते हैं किडनी खराब होने के कारण और इससे बचाव के तरीके-

यह भी पढ़े : मारुति सुजुकी जल्द लॉन्च करेगी ब्रेज़ा सीएनजी, कीमत 8.74 लाख रुपये से शुरू होने की उम्मीद


किडनी दो कारणों से फेल हो सकती है

डॉक्टरों के मुताबिक किडनी 2 कारणों से फेल हो सकती है। पहला है एक्यूट किडनी फेल्योर और दूसरा है क्रॉनिक किडनी फेल्योर, एक्यूट किडनी फेलियर में किडनी का काम अस्थायी रूप से बंद हो जाता है। इसमें किडनी ट्रांसप्लांट और डायलिसिस की जरूरत नहीं होती है। लेकिन क्रोनिक किडनी फेल होने की स्थिति में किडनी धीरे-धीरे खराब होने लगती  है।

यह भी पढ़े : छठ पूजा 2022: खरना पूजन के साथ 36 घंटे का निर्जला उपवास शुरू, बन रहा अमृत कारक योग, जानें पूजन विधि


किडनी फेल क्यों होती है?

बहुत से लोग बिना डॉक्टर की सलाह के दर्द निवारक, एंटीबायोटिक्स का इस्तेमाल या सेवन करते हैं। इससे किडनी फेल भी हो सकती है। खराब जीवनशैली, मधुमेह और उच्च रक्तचाप भी गुर्दे की विफलता का कारण बन सकते हैं।