गुजरात के सूरत में एक बच्ची को मां के पेट में ही Corona हो गया था और जन्म लेने के 14 दिन बाद ही उसने दम तोड़ दिया। हालांकि, उसकी मां का भी दूसरे अस्पताल में इलाज चल रहा है।

डायमंड हॉस्पिटल की ओर से जारी बयान में कहा गया है कि बच्ची की मां कोरोना संक्रमित थी, इसलिए वह भी कोरोना संक्रमण के साथ ही पैदा हुई। बच्ची का जन्म 1 अप्रैल को हुआ था।

बच्ची की मां को दूसरे अस्पताल में शिफ्ट किया जा चुका है। नवजात बच्ची आईसीयू में भर्ती थी। स्थिति बिगड़ने पर उसे रेमडेसिवीर का इजेक्शन भी लगाया गया था। अस्पताल का कहना है कि बच्ची को वेंटिलेटर सपोर्ट भी दिया गया था। 

सूरत के पूर्व मेयर जगदीश पाटिल ने कोरोना संक्रमण से उबरने के बाद बच्ची के लिए अपना ब्लड प्लाज्मा भी डोनेट किया। लेकिन तमाम कोशिशों के बावजूद बच्ची को बचाया नहीं जा सका। सूरत में गुरुवार को 1,551 नए केस आए, जबकि 26 लोगों की मौत हो गई।