कई तरह के बाबा औक ढोंगी गांव गांव घूमते हैं। कई ऐसे लूटरे होते हैं जो कि बाबा के भेष में भोले भाले गांव के लोगों को लूट लेते हैं। इसी तरह से कोतवाली ऋषिकेश की टीम ने महिलाओं को सम्मोहित कर ठगी करने वाले बाबा योगी प्रियव्रत अनिमेष को गिरफ्तार कर लिया है। ऋषिकेश के एक सराफा व्यापारी ने बाबा के खिलाफ एक शिकायत दर्ज कराई थी।


शिकायत में सराफा व्यापारी द्वारा कहा गया था कि मेरी पत्नी की कुछ मानसिक समस्या है। इसका फायदा उठाकर महिंद्र रोड उर्फ योगी प्रियव्रत अनिमेश ने मेरी पत्नी को सम्मोहित कर अपने वश में कर लिया और आध्यात्मिक इलाज से उपचार करने के बहाने कई बार अपने निवास नेचर विला विल नंबर 21 पर बुलाकर खाने की दवाइयां भी दीं।

व्यापारी ने बताया कि सम्मोहित कर योगी प्रियव्रत अनिमेष ने मेरी पत्नी से अलग-अलग तिथियों में दिसंबर 2019 से अब तक एक रुद्राक्ष की माला, सोने का ब्रेसलेट, रुद्राक्ष का ब्रेसलेट, सोने की माला, सोने की 4 अंगूठी, तुलसी की माला तथा कुछ रुपए नगद भी ठग लिए है। जिसपर थाना ऋषिकेश पुलिस ने धारा 323, 386, 405, 506 और धारा 420 के तहत मुकदमा दर्ज कर आरोपी बाबा को अरेस्ट किया है। बाबा के ख़िलाफ़ हरियाणा में 3 मुकदमे दर्ज हैं।