इस दीवाली पर अयोध्या में दीये जलाने का विश्व रिकॉर्ड बना है। इस भव्य-दिव्य दीपोत्सव कार्यक्रम में 6,06,569 दीये जलाकर योगी सरकार ने ‘गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड्स’ में अपना नाम दर्ज करा लिया। उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा जारी एक बयान के मुताबिक ‘गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड्स’ के प्रतिनिधियों ने अयोध्या में दीपोत्सव को देखा। इस दौरान 6,06,569 मिट्टी के दीये जलाए गए। इस तरह अयोध्या ने ऐसे भव्य आयोजन के मामले में अपना नाम रिकॉर्ड बुक में दर्ज करा लिया है।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने यह नया रिकॉर्ड कायम करने के लिए राम भक्तों तथा सभी अयोध्यावासियों को बधाई दी और कहा कि अगले साल यह रिकॉर्ड भी पीछे छूट जाएगा। अगले वर्ष 7.51 लाख दीये जलाए जाएंगे। उन्होंने कहा कि इससे यह भी जाहिर होता है कि किस प्रकार प्रदूषण मुक्त दीपावली मनाई जा सकती है। इसके लिए भी अयोध्यावासियों को बधाई दी जानी चाहिए। सामूहिक भागीदारी किसी भी त्योहार को और भी खुशियों से भर देती है। संपूर्ण विश्व का ध्यान उसकी तरफ जाता है।

यूपी की गवर्नर आनंदीबेन पटेल और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अयोध्या में सरयू तट पर शुक्रवार को भव्य दीपोत्सव का उद्घाटन किया। इस मौके पर सीएम और गवर्नर के अलावा राज्य सरकार के अनेक मंत्रियों ने सरयू नदी की आरती की। कोविड-19 प्रोटोकॉल की वजह से नया घाट पर विभिन्न आरती स्थल बनाए गए। दीपोत्सव में शिरकत करने के लिए अयोध्या पहुंचे मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सबसे पहले श्री राम जन्मभूमि मंदिर जाकर रामलला के दर्शन किए। इस मौके पर श्री राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र के कई ट्रस्टी भी मौजूद थे. सीएम ने श्रीराम के स्वरूप का राज्याभिषेक भी किया।