दीपावली पर अयोध्या भगवान राम के स्वागत के लिए जोरदार तरीके से सजाई जा रही है। आज पहली बार रामलला मंदिर में 11 हजार दीप जलाए जाएंगे, उधर सरयू के 24 तटों को छह लाख दीयों से सजाया गया है। ये भी आज शाम जगमगाएंगे।


CM योगी आदित्यनाथ और राज्यपाल आनंदीबेन पटेल शाम को राम जन्म भूमि परिसर में रामलला के दर्शन करेंगे। इसके बाद दीप जला कर दीपोत्सव का उद्घाटन करेंगे। इस बीच कोविड प्रोटोकाल का पालन कराने के लिए अयोध्या को सील कर दिया गया है। बाहरी लोगों के अयोध्या में प्रवेश पर रोक लगा दी गई है।
सरयू के तटों पर सजी दीप श्रृंखला में महिला सशक्तिकरण का संदेश दिया गया है। अवध यूनिवर्सिटी के कला और फाइन आर्ट विभाग के स्टूडेंट्स ने दीपों के साथ राम कथा के प्रसंगों का दिखाया है।प्रमुख झलकियों में घाट संख्या दो पर सामाजिक समरसता और महिला सशक्तीकरण का संदेश दिया गया है। घाट संख्या तीन पर वनवास से 14 साल बाद लौटे भगवान श्रीराम के पुष्पक विमान को दीपों से तैयार किया गया है। घाट संख्या पांच पर पहाड़ लेकर उड़ते हनुमानजी की छवि दिखाई गई है। वहीं घाट संख्या 10 पर श्रीराम दरबार की पेंटिग बनाई गई है।अयोध्या DIG दीपक कुमार के मुताबिक ड्रोन कैमरे से पूरे अयोध्या की निगरानी की जा रही है। बड़ी संख्या में पुलिस फोर्स तैनात है। अयोध्या में ही 12 स्थानों पर रूट डायवर्ट किया गया है। एंबुलेंस और मरीज वाहनों के लिए विशेष ग्रीन कॉरिडोर बनाया गया है।