राम मंदिर के बाद अयोध्या में आगामी हवाई अड्डे के नाम के प्रस्ताव को मंजूरी दे दी है। बताया जा रहा है कि फैजाबाद हवाई पट्टी को अब एक पूर्ण हवाई अड्डे के रूप में अपग्रेड किया जा रहा है, और इसका नाम मर्यादा पुरुषोत्तम श्री राम एयरपोर्ट रखा जाएगा। उत्तर प्रदेश सरकार ने भारतीय विमानपत्तन प्राधिकरण समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किए है।  मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की अध्यक्षता में हुई कैबिनेट की बैठक में हवाई अड्डे के लिए नाम को मंजूरी दे दी गई है।


नागरिक उड्डयन मंत्रालय को भेजने का निर्णय लिया गया है। केशव प्रसाद मौर्य ने हिंदी में ट्वीट किया कि उत्तर प्रदेश के उपमुख्यमंत्री के बाद अयोध्या हवाई अड्डे के नामकरण पर कैबिनेट के फैसा लिया है। योगी यूपी सरकार की कैबिनेट ने अयोध्या हवाई अड्डे के नामकरण को मर्यादा पुरुषोत्तम श्री राम हवाई अड्डे के रूप में मंजूरी दी है। राज्य सरकार श्रीराम लाला के शहर अयोध्या को दुनिया के शीर्ष धार्मिक स्थानों में स्थान देने के लिए प्रतिबद्ध है।

जानकारी के लिए बता दें कि अयोध्या में हवाई अड्डे के लिए भूमि अधिग्रहण की प्रक्रिया चल रही है। सरकार अब अयोध्या को वैश्विक धार्मिक पर्यटन स्थल के रूप में बढ़ावा देने की कोशिश कर रही है। साथ ही सरकार भी अयोध्या के समग्र विकास के लिए एक वैश्विक सलाहकार को बुनियादी ढाँचा, संरक्षण और पर्यटन का काम पर रखने की प्रक्रिया में है। उत्तर प्रदेश सरकार ने पेश किया है कि बल, जबरदस्ती, प्रलोभन, छल, कपट या विवाह का उपयोग करके गैरकानूनी धार्मिक रूपांतरण की जांच करने का अध्यादेश है।