रॉयल चैलेंजर्स बेंगलोर (आरसीबी) के बल्लेबाज ग्लेन मैक्सवेल ने सुझाव दिया है कि ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ी भारतीय और इंग्लैंड के खिलाड़ियों के साथ इंग्लैंड जा सकते हैं फिर वहां से वे ऑस्ट्रेलिया के लिए रवाना हो सकते हैं। इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के 14वें सीजन का 30 मई को समाप्ति होने के बाद भारत को 18 जून से साउथैम्पटन के रोज बाउल में न्यूजीलैंड के खिलाफ आईसीसी विश्व टेस्ट चैम्पियनशिप फाइनल खेलने के लिए इंग्लैंड का दौरा करने का कार्यक्रम है।

भारत में बढ़ते कोरोना के मामले को देखते हुए आस्ट्रेलिया की सरकार ने भारत से आने वाले विमानों पर 15 मई तक के लिए रोक लगा दी है। मैक्सवेल ने द फाइनल वर्ड पॉडकास्ट से कहा, हम केवल स्वदेश जाने का रास्ता ढूंढना चाहते हैं। बीसीसीआई और दोनों सरकारें समाघान निकाल सकती है। किसी भी चरण में स्वदेश लौटने का रास्ता को निकालना चाहिए। उन्होंने कहा, स्थिति अगर और ज्यादा खराब रहती है तो हमें विशेष विमान से भारत से बाहर निकलने का मार्ग खोजना होगा। मुझे विश्वास है कि अगर ऐसी चीजें होती है तो कई सारे खिलाड़ी इसके साथ होंगे।

भारत में बिगड़ती कोविड-19 की स्थिति के कारण ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ी आईपीएल से वापस घर लौट रहे है। उसके तीन खिलाड़ी मैक्सवेल के बेंगलोर के टीम साथी केन रिचर्डसन और एडम जम्पा और राजस्थान रॉयल्स के एंड्रयू टाई पहले ही ऑस्ट्रेलिया लौट चुके हैं।