डिब्रूगढ़ से लालगढ़ जाने वाली अवध-असम एक्सप्रेस ट्रेन के लीज वैन से अपराधियों ने लगभग तीन लाख रुपये की इलायची की चोरी की कोशिश की। हालांकि मौके पर आरपीएफ के पहुंच जाने से अपराधी चोरी की इस घटना में सफल नहीं हो सके। घटना 25 अक्टूबर की देर रात नया गांव  के पास की बताई गई है।


मिली जानकारी के अनुसार अपराधियों ने लीज वैन को काटकर कर बीस पैकेट में पैक लगभग 2 लाख 91 हजार रुपये की इलायची को वैन से नीचे गिरा दिया था। रेलवे ने इस ब्रेक पार्सल वैन को नई दिल्ली के खन्ना लॉजिस्टिक को आवंटित किया है। इस घटना के बाद उसी ट्रेन में चल रहे उपरोक्त एजेंसी का कर्मचारी जयराम ने गाड़ी के छपरा पहुंचने पर आरपीएफ को इसकी सूचना दी। उसने पुलिस को बताया कि अपराधियों के डर से उसने घटना के वक्त शोर नहीं मचाया था।


इसकी सूचना सोनपुर आरपीएफ को मिलते ही यहां से रेलवे सुरक्षा बल की टीम घटनास्थल से तत्काल रवाना हो गई। टीम में आरपीएफ के सब इंस्पेक्टर नागेंद्र प्रसाद, सिपाही रंजय सिंह, मुन्ना सिंह, सत्येंद्र राय, रमेश सिंह, अमन कुमार, आरिफ अंसारी तथा नाथ शामिल थे। आरपीएफ की टीम के नया गांव पहुंचते ही घटनास्थल से सारा माल छोड़कर अपराधी भागने में कामयाब रहे। आरपीएफ इलायची की पैकेट को जब्त कर अपने साथ ले आई।


इधर इस घटना की जानकारी आरपीएफ ने एजेंसी को दी। इसके बाद नई दिल्ली से कंपनी का कर्मी रामपाल यहां शुक्रवार को सोनपुर पहुंचा। उसके  बयान पर सोनपुर रेल पुलिस ने कांड संख्या 162 /18 के तहत प्राथमिकी दर्ज की है। बरामद किए गए लगभग 9 क्विंटल बड़ी इलायची को रेलवे सुरक्षा बल ने जीआरपी को सुपुर्द कर दिया।