दी ऑल असम टी ट्राइब्स स्टूडेंट ऐसोशिएसन सरकार पर विद्रोह की घटनाए रोकने में नाकाम रहने का आरोप लगाया है। इसको लेकर संगठन ने सरकार के खिलाफ विरोध प्रदर्शन भी किया है। संगठन का आरोप है कि सरकार राज्य के तिनसुकिया जिले में विद्रोह की घटनाओं को रोकने में असफल रही है।

संगठन ने यह विरोध प्रदर्शन उस घटना के बाद किया है जिसमें हाल ही में तिनसु​किया जिले में ​स्थित शंकर टी एस्टेट के हेड फिटर गौरांग सुंदर देव का अपहरण कर लिया गया था। बताया गया है कि देव को अज्ञात लोगों ने 11 अक्टूबर को लगभग शाम 6:30 बजे के करीब किडनैप कर लिया था।

खबर है कि चार अज्ञात लोग मास्क पहन कर टी एस्टेट में चीफ मैनेजर की तलाश करते हुए घुसे थे। लेकिन जब उनको मैनेजर नहीं मिला तो उन्होंने कर्मचारी का अपहरण लिया। इस घटना के बाद से ही इलाके में असंतोष व्याप्त है तथा प्रशासन के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे हैं।