असम के मुख्यमंत्री सर्वानंद सोनोवाल ने राज्य के बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों लखीमपुर और धीमाजी जिले का दौरा किया। सोनोवाल ने सबसे पहले सुबनसिरी नदी से घिरे लखीमपुर जिले के थेकेराजन के भूमि अपर्दन प्रभावित क्षेत्रों का दौरा किया। 

उन्होंने जल संसाधन विभाग के वरिष्ठ अधिकारियों के साथ बातचीत की। इसके अलावा भूमि अपर्दन के प्रभावों को कम करने के लिए विभाग के कदमों का जायजा लिया। इसके साथ ही भूमि अपर्दन के खतरे को कम करने के लिए उचित कदम उठाने के निर्देश दिए। 

सोनोवाल ने धेमाजी जिले के भोज राजस्व गांव का भी दौरा किया और बाढ़ प्रभावित लोगों से बातचीत की और उनके बीच राहत सामग्री वितरित कराई। पिछले कुछ दिनों से लगातार हो रही बारिश के से 50 गांव बाढ़ की चपेट में आ गये हैं। सोनोवाल ने कहा कि बाढ़ और भूमि क्षरण ने बड़ा संकट खड़ा किया है और वह इससे प्रभावित इलाकों का दौरा कर रहे हैं। असम की बाढ़ में इस वर्ष 100 से अधिक लोगों की मौत हो चुकी है।