हाइलाकांदी में दो समुदायों के बीच शुक्रवार को संघर्ष में एक व्यक्ति की जान चली गयी थी और 14 अन्य घायल हो गये। इसके बाद कर्फ्यू लगा दिया गया था। इसकी जानकारी अधिकारियों ने दी।


एक अन्य आदेश में हाइलाकांदी के जिलाधिकारी और उपायुक्त कीर्ति जल्ली ने पूरे जिले में निषेधाज्ञा शुक्रवार शाम छह बजे से बढाकर रविवार 12 मई को शाम सात बजे तक कर दी। अधिकारियों ने बताया कि शनिवार को अब तक जिले से किसी अप्रिय घटना की खबर नहीं है।


मुख्यमंत्री सर्बानंद सोनोवाल के निर्देश पर पर्यावरण एवं वन मंत्री परिमल शुक्ल वैद्य, अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक मुकेश अग्रवाल और बराक घाटी के आयुक्त अनवरूद्दीन चौधरी स्थिति का जायजा लेने हाइलाकांदी पहुंचे।


वैद्य ने लोगों से विभिन्न समुदायों के बीच शांति और पारंपरिक शांतिपूर्ण संबंध बनाये रखने के लिए अफवाहों से दूर रहने की अपील की। मुख्यमंत्री सर्बानंद सोनोवाल ने लोगों से शांति एवं सद्भाव बनाये रखने की अपील की है और उनसे विभाजनकारी ताकतों को समाज में अशांति नहीं फैलाने देने की अपील की।