एक टीचर द्वारा छात्राओं के लिए हिजाब पहनने कर स्कूल आने का फरमान सुनाने का मामला सामने आया है। यह वाकया असम के करीमगंज स्थित एक स्कूल का है जहां पढ़ाने वाले सीनियर टीचर एबी हन्नान ने अपनी छात्राओं को हिजाब पहन कर स्कूल आने के लिए कहा है। टीचर ने अपने इस फरमान को जारी करने के बाद छात्राओं के साथ सेल्फी भी ली और उसको फेसबुक पर भी शेयर कर दिया।

करीमगंज के कनिशहेल स्थित East Point Public School की छात्राओं के साथ खींची गई फोटो को फेसबुक पर शेयर करते हुए टीचर ने बंगाली तथा अंगेजी में केप्शन भी दिया जिसमें लिखा है कि 'मेरी छात्राओं को बुरी नजरों से बचाने के लिए उनको हिजाब पहनकर आना अनिवार्य कर दिया है।' हालांकि टीचर की इस करतूत में अपना हाथ होने को लेकर स्कूल प्रशासन ने मना किया है। 

टीचर द्वारा फेसबुक पर फोटो शेयर करने के बाद वो तुरंत वायरल हो गई जिसका कई लोगों ने समर्थन किया तो कईयों ने विरोध भी किया। इस घटना को लेकर स्कूल प्रशासन का कहना है कि यह छात्राओं पर निर्भर करता है कि वो हिजाब पहनना चाहती हैं या नहीं। इसमें उनका कोई लेना देना नहीं है। हालांकि इसके बाद हिजाब अनिवार्य करने के वाले टीचर ने फेसबुक डाली गई पोस्ट को डिलीट कर दिया और क्षमा मांगते हुए कहा कि मेरे इस कार्य को स्कूल प्रशासन की तरफ से समर्थन नहीं मिला तथा इसको गलत बताया। इस वजह से मैंने अपनी पहले वाली पोस्ट को डिलीट कर दिया है तथा जिनकी भी भावना को इससे ठेस पहुंची उनसे क्षमा मांगता हूं।

आपको बता दें कि East Point Public School राज्य के Board of Secondary Education Assam (SEBA) अंतर्गत आता है तथा यहां पर पढ़ने वाले छात्र और छात्राएं अपने धर्म को लेकर स्वतंत्र हैं।