पूर्वोत्तर राज्य असम से एक सनसनीखेज मामला सामने आया है। यहां पिता और पुत्र की 6 साल की बच्ची के रेप और हत्या के आरोप में गिरफ्तार किया गया। बता दें कि 15 साल के किशोर पर बच्ची के साथ बलात्कार और हत्या (Rape in Assam) का आरोप लगा था। वहीं पिता ने कथित तौर पर सबूतों को नष्ट करने और जांच को गुमराह करने की कोशिश की थी। 

पुलिस के अनुसार बच्ची नौ फरवरी से लापता थी, जबकि उसका शव (Murder in Assam) 12 फरवरी को बराक घाटी जिले के सुल्तानीचेरा के एक वन क्षेत्र से बरामद किया गया था। प्रारंभिक जांच में पता चला है कि मरने से पहले पीडि़ता को गंभीर चोटें आई थीं। इसके बाद पोस्टमार्टम रिपोर्ट में बच्ची के साथ रेप की बात सामने आई। आरोपी नाबालिग लडक़े पर किशोर न्याय अधिनियम (Juvenile Justice Act) के तहत कई गंभीर आरोप लगाए गए हैं। पुलिस ने बताया कि आरोपी ने पहले ही अपना जुर्म कबूल कर लिया है। हालांकि पुलिस को संदेह था कि उसे दूसरों ने मदद की होगी और पुलिस उनकी पहचान करने की कोशिश कर रही थी।

एसीपीसीआर के एक सदस्य अजय कुमार दत्ता (Ajay Kumar Dutta) ने कहा कि वे अन्य बच्चों के घर गए जो लड़की के गायब होने के समय मौजूद थे। उन्होंने परिवार के सदस्यों और बच्चों से अलग-अलग पूछताछ की। पूछताछ के दौरान पुलिस की टीम सादे कपड़ों में पहुंची थी। दत्ता ने कहा, पूछताछ के दौरान हमने देखा कि एक परिवार बेहद ही अजीब ढंग से व्यवहार कर रहा था और इस परिवार में शामिल एक लड़का घोल-मोल अंदाज में बात कर रहा था। उन्होंने यह भी पाया गया कि पूछताछ के समय उनके घर में बहुत से रिश्तेदार रह रहे थे। इससे हमें अपराधी की पहचान करने का तरीका खोजने में काफी मदद मिली। ऐसे में एसीपीसीआर और पुलिस ने मिलकर मामले की जांच की और 24 घंटे के भीतर इसे सुलझा लिया।