तीनों नगर निगमों के विलय को लेकर भारतीय जनता पार्टी और केंद्र सरकार पर हमलावर दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा है कि यदि भाजपा एमसीडी चुनाव में जीत हासिल करती है तो वह राजनीति छोड़ देंगे। केजरीवाल ने कहा, '' भाजपा में दम है तो निगम का चुनाव अभी कराए और जीतकर दिखाए, अगर जीती तो मैं राजनीति छोड़ दूंगा।'

यह भी पढ़े : भाजपा और टीआईपीआरए के समर्थकों के बीच हिंसक झड़प , दो पुलिसकर्मी सहित कई घायल


दिल्ली के चुनाव आयुक्त एसके श्रीवास्तव ने बताया कि केंद्र सरकार दिल्ली के तीनों निगमों के एकीकरण की योजना पर काम कर रही है, इसीलिए चुनाव कार्यक्रम के ऐलान में देरी हो रही है. हालांकि इसी के बाद दिल्ली सरकार ने केंद्र की बीजेपी सरकार पर तमाम तरह के आरोप लगाने शुरू कर दिए हैं.

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने ट्वीट करते हुए लिखा कि बीजेपी भाग गई. एमसीडी चुनाव टाल दिया. बीजेपी ने हार मान ली है. दिल्लीवाले गुस्से में हैं. वे कह रहे हैं कि इनकी हिम्मत कि चुनाव ना कराएं? अब इनकी जमानत जब्त कराएंगे. उन्होंने दावा करते हुए आगे लिखा कि हमारे सर्वे में अभी 272 में 250 सीटें आ रही थीं, लेकिन अब 260 से ज्यादा सीटें आ जाएंगी।

 

यह भी पढ़े : मीरा बोरठाकुर बनी असम प्रदेश महिला कांग्रेस की अध्यक्ष , सोनिया गांधी ने लगाई मुहर

केजरीवाल ने अपने एक और ट्वीट में सवाल किया कि क्या चुनाव आयोग को चुनाव टालने या न कराने के लिए केंद्र सरकार निर्देश दे सकती है? यह किस प्रावधान के तहत है? क्या ये दिशानिर्देश चुनाव आयोग के लिए बाध्यकारी हैं? चुनाव आयोग दबाव में क्यों झुक रहा है? वहीं उन्होंने प्रधानमंत्री पर हमला बोलते हुए कहा कि मोदीजी! अब इस देश में चुनाव भी नहीं कराएंगे?