ब्रिटेन के प्रसारण नियामक यूनेस्टेड किंगडम (यूके) के प्रसारण नियामक द्वारा अर्नब गोस्वामी के रिपब्लिक भारत के प्राइम टाइम डिबेट शो 'पुछता है भारत' पर 20,000 पाउंड (19.73 लाख रुपए) का जुर्माना लगाया है। संचार विभाग ने अर्नब गोस्वामी के प्राइमेट डिबेट शो 'पुछता है भारत' को रिपब्लिक भारत पर प्रसारित किया था। यह जुर्माना वर्ल्डव्यू मीडिया नेटवर्क लिमिटेड पर लगाया गया है, जो रिपब्लिक भारत का संचालन करता है।


रिपोर्ट मे बताया गया है कि अर्नब गोस्वामी के प्राइम टाइम डिबेट शो 'पुछता है भारत' में प्रसारण नियमों का पालन करने में विफल, आक्रामक भाषा, अभद्र भाषा और व्यक्तियों, समूहों, धर्मों या समुदायों के अपमानजनक उपचार को शामिल करने वाली सामग्री को प्रसारित करने के लिए गणतंत्र भारत पर जुर्माना लगाया गया है। ओफ़कॉम ने कहा कि 6 सितंबर, 2018 का एपिसोड जो कि रिपब्लिक टीवी के एडिटर-इन-चीफ अर्नब गोस्वामी द्वारा होस्ट किया गया था, में अर्नब गोस्वामी द्वारा कुछ अपरंपरागत अभद्र भाषा शामिल की गई थी।


6 सितंबर, 2019 को रिपब्लिक टीवी पर 'पुछता है भारत' का एपिसोड, जिसके लिए ऑफकॉम ने जुर्माना लगाया है, वह भारत के चंद्रयान 2 मिशन से संबंधित था और चंद्रमा की "भारत की खोज की तुलना" और पाकिस्तान की तुलना में तकनीकी प्रगति, और भारतीय लक्ष्यों के खिलाफ पाकिस्तान की कथित आतंकवादी गतिविधियां शामिल थी। ऑफकॉम के बयान के अनुसार, अर्नब गोस्वामी और उनके पैनलिस्ट ने पाकिस्तान में लोगों का जिक्र करते हुए कहा कि उनके वैज्ञानिक, डॉक्टर, उनके नेता, राजनेता सभी आतंकवादी हैं।