सुरक्षा बलों ने असम अरुणाचल प्रदेश सीमावर्ती कानू भोगबाड़ी गांव से भारी मात्रा में विस्फोटक सामग्रियां बरामद की हैं। यह मौत का सामान तीन दिन पहले पकड़े गए अल्फा (स्वाधीन) के कैडर निर्मल की निशानदेही पर बरामद किए गए हैं। 

गौरतलब है कि 23 अप्रैल को अल्फा (स्वाधीन) के एक दल ने सापेखाटी में एक पेट्रोल पंप पर गोलियां बरसाई थीं। इसके बाद कानू भोगबाड़ी अंचल में सुरक्षा बलों के साथ मुठभेड़ भी हुई। हालांकि अंधेरे का फायदा उठाकर विद्रोही संगठन का दल फरार होने में कामयाब रहा। अल्फाइयों ने इस दल ने पलायन करते समय कानू भोगबाड़ी गांव में अनंत गोगोई के घर के पास अपने साथ लाए विस्फोटक सामग्री को रख दिया। 

बीती रात गिरफ्तार कैडर की निशानदेही के बाद सुरक्षा बलों ने विस्फोटक सामग्री बरामद की है। इसमें आरडीएक्स, आईईडी उड़ाने का काम आने वाला रिमोट कंट्रोल, डिटोनेटर, फ्लैक्सिबल वायर, ब्लैक टेप, बैटरी और बम बनाने का सामान मिला है। बता दें कि पिछले कुछ दिनों से चराईदेव जिले में अल्फा की गतिविधियां तेज हो गई हैं। कल नीपको के हाई टेंशन टॉवर से दो बम बरामद होने की घटना के बाद जिले में सुरक्षा  बलों का अभियान तेज कर दिया गया है। 

आशंका जताई जा रही है कि अल्फाई धन उगाही का रास्ता साफ करने के मकसद से विस्फोटक घटनाओं को अंजाम दे सकते हैं। चराईदेव जिले के विभिन्न अंचलों, खासकर सीमावर्ती अंचलों में अल्फा (स्वाधीन) के सैंकेड लेफ्टिनेंट गणेश लाहोन के नेतृत्व में गतिविधियां चलने की बात पुलिस ने कही है।