ब्रह्मपुत्र में बुधवार को अश्वक्लांत मंदिर के पास हुई नाव दुर्घटना के बाद पानी में लापता लोगों की तलाश में सेना उतारी गई है। वहीं लापता लोगों का सुराग तलाशने में एयर फोर्स के हेलीकॉप्टर तथा ड्रोन कैमरों की मदद भी ली जा रही है। घटना के 36 घंटे बीत जाने के बावजूद अब तक पानी में लापता हुए लोगों के संदर्भ में कोई सटीक आंकड़ा सामने नहीं आया है। 

प्रशासन की ओर से राहुल अली व कमल रजान नामक दो युवकों के लापता होने की बात कही जा रही है। जबकि प्रत्यक्षदर्शियों का कहना है नाव पर सवाल करीब 50 में से 20 लोग पानी के तेज बहाव में बह गए। जानकारी के अनुसार गुरुवार की सुबह एनडीआरएफ व एसडीआरेफ की कई नावें ब्रह्मपुत्र के अलग-अलग स्थानों पर गोताखारों की मदद से पानी में लापता हुए लोगों की तलाश में जुट गई। ब्रह्मपुत्र के कई किलोमीटर तक बचाव दल तथा गोताखोरों ने पानी की सतह को खंगाला मगर शाम ढलने तक उन्हें कुछ हाथ नहीं लगा। जबकि दुर्घटनाग्रस्त नाव को सुवालकुची के पास से बरामद कर लिया गया है। 

इस हादसे के बाद हरकत में आई चांगसारी पुलिस ने नाव चालक नुरुद्दीन अली व उसके सहयोगी हालिम को गिरफ्तार कर लिया है। इधर, उत्तर गुवाहाटी के स्थानीय लोगों ने आईडब्ल्यूटी के खिलाफ स्थानीय थाने में एक शिकायत दर्ज कराने की बात कही है।