पूर्वी लद्दाख में चीन से चले गतिरोध पर सेना प्रमुख जनरल एम एम नरवणे का ताजा बयान आया है। उन्होंने कहा है कि भारत के उत्तरी सीमा से लगे इलाके में स्थिति नियंत्रण में है। वह बोले कि भारतीय सेना इसको लेकर बहुत स्पष्ट है कि यथास्थिति में एकतरफा बदलाव नहीं करने दिया जाएगा। आर्मी चीफ नरवणे ने कहा कि चीन के साथ लद्दाख गतिरोध पर अगले दौर की वार्ता में अप्रैल 2020 से पहले की यथास्थिति बहाल करने पर जोर रहेगा।

नरवणे ने कहा कि दो देशों के बीच बड़े गतिरोध से विश्वास घटता है जिससे दोनों पक्षों को जनहानि होती है। वह बोले कि चूंकि दोनों पेशेवर सेनाएं हैं, इसलिए जरूरी है कि हम जल्द से जल्द विश्वास बहाल कर स्थिति को सुलझा लें। जनरल नरवणे ने यह भी इशारा दिया कि चीन पर पूरी तरह से आंख मूंद कर भरोसा नहीं किया जा रहा है। वह बोले कि महत्वपूर्ण क्षेत्रों में हमारे सैनिकों का नियंत्रण है, किसी भी आपात स्थिति से निपटने के लिए हमारे पास 'रिजर्व' के रूप में पर्याप्त ताकत है। वह बोले, ‘हम पूर्वी लद्दाख में अपने दावों की शुचिता सुनिश्चित करते हुए चीन के साथ दृढ़ता से और बिना तनाव बढ़ाये व्यवहार कर रहे हैं।’