भारतीय सेना (Indian Army) को जम्मू-कश्मीर (Jammu and Kashmir) में बड़ी कामयाबी हासिल हुई है। सुरक्षाबलों ने बडगाम और पुलवामा जिलों में दो अलग-अलग रातभर चले अभियानों में पांच आतंकवादी मार (five terrorists killed) गिराया है। पुलिस ने रविवार को यह जानकारी दी है। कश्मीर पुलिस महानिरीक्षक (IGP) विजय कुमार (vijay kumar) ने जानकारी देते हुए बताया कि मुठभेड़ में मारे गए आतंकवादी पाकिस्तान स्थित आतंकवादी संगठन लश्कर-ए-तैयबा (Lashkar-e-Taiba) और जैश-ए-मोहम्मद (Jaish-e-Mohammed) के थे। कुमार ने बताया कि मारे गए लोगों में जैश कमांडर जाहिद वानी (Jaish Commander Zahid Wani) और एक पाकिस्तानी आतंकवादी (Pakistani terrorists) भी शामिल है। उन्होंने इस कार्रवाई को सुरक्षा बलों के लिए बड़ी सफलता बताया है।

बता दें कि इससे पहले दोनों जिलों में शनिवार को सुरक्षा बलों और आतंकवादियों के बीच दो अलग-अलग मुठभेड़ शुरू हुई थी। पुलिस के एक अधिकारी ने बयान में बताया था कि दक्षिण कश्मीर के पुलवामा के नैरा इलाके में आतंकवादियों की मौजूदगी की विशिष्ट सूचना पर कार्रवाई करते हुए सुरक्षा बलों ने वहां घेराबंदी अभियान चलाया था। इसी दौरान जब तलाशी ले रहे थे तभी छिपे हुए आतंकवादियों ने उन पर गोलीबारी शुरू कर दी थी।

अधिकारी ने जानकारी दी कि सुरक्षाबलों ने जवाबी कार्रवाई की और मुठभेड़ शुरू हो गई। अधिकारी ने कहा कि मध्य कश्मीर के बडगाम जिले के चरार-ए-शरीफ इलाके में सुरक्षा बलों और आतंकवादियों के बीच एक और मुठभेड़ हुई है जिसमें लश्कर-ए-तैयबा से जुड़ा एक आतंकवादी मारा गया। पुलिस ने कहा कि घटनास्थल से एक एके-56 राइफल सहित आपत्तिजनक सामग्री बरामद की गई है।

गौर हो कि 29 जनवरी शनिवार को जम्मू-कश्मीर के एक पुलिस कर्मी की ड्यूटी के दौरान अनंतनाग में आतंकवादियों ने गोली मारकर हत्या कर दी थी। एक पुलिस अधिकारी ने कहा कि हेड कांस्टेबल अली मोहम्मद को अनंतनाग के बिजबेहरा इलाके के हसनपोरा में उनके आवास के पास शाम करीब 5.35 बजे गोली मारी गई थी। घायल कांस्टेबल को गंभीर हालत में अस्पताल ले जाया गया जहां उसने दम तोड़ दिया।