असम लोकसेवा आयोग के बर्खास्त पूर्व अध्यक्ष राकेश पाॅल का जमानत आवेदन गौहाटी हाईकोर्ट ने एक बार फिर खारिज कर दिया है। पॅाल के खिलाफ धन के बदले नौकरी देने के करोड़ों के भ्रष्टाचार के मामले में राज्य सीआईडी ने केस संख्या 27/18 के तहत मामला दर्ज कर रखा है। सीबीआई भी इस मामले की जांच रही है।

यह मामला वर्ष 2017 के दौरान तब अधिक चर्चित हुआ था, जब असम पुलिस ने बकायदा इसकी जांच शुरू की थी। एपीएससी के तत्कालीन इस मामले में 50 से अधिक एपीएस अधिकारी गिरफ्तार हो चुके हैं। हाल ही में सीबीआई ने करोड़ों के एपीएससी नियुक्ति घोटाले के मुख्य अभियुक्त राकेश पाॅल की डेढ़ सौ करोड़ से अधिक की परिसंपत्ति का पता लगाया है।


बताया जा रहा है कि एपीएससी के अध्यक्ष के तौर पर अपने कार्यकाल के दौरान पाॅल ने लगभग 22 परिसंपत्तियां जमा की थीं। उनमें गुवाहाटी और कोलकत्ता के पाॅश इलाके में कई फ्लैट भी शामिल बताए गए हैं।