त्वचा गोरी है या सांवली इस बात से कोई फर्क नहीं पड़ता। फर्क पड़ता है तो ग्लो होने और ना होने से। आज हम यहां आपके लिए जो खास घरेलू उबटन बनाने की विधि लेकर आए हैं, यह खासतौर पर ग्लो बढ़ाने के लिए। सांवली त्वचा वाली महिलाओं को इस उबटन का उपयोग खासतौर पर करना चाहिए। क्योंकि इससे आपकी त्वचा बहुत हेल्दी और क्लीन बनेगी। इससे आपका सलोना रूप खिल उठेगा। यहां जानें, इस उबटन को बनाने और उपयोग करने की विधि।

4 चम्मच बेसन

आधा कप ओटमील या पोहा

2 चम्मच ऐलोवेरा जेल

1 चम्मच हल्दी पाउडर

4 चम्मच गुलाबजल

मिक्सिंग के लिए दूध

इन सभी चीजों को मिक्स करके उबटन तैयार करें और इसे 10 मिनट के लिए रखा रहने दें ताकि यह अच्छी तरह सेट हो जाए। इस उबटन का उपयोग गर्मी के मौसम में नहाते समय करें। क्योंकि इस समय पर आप बाथरूम में अधिक समय बिता सकती हैं। सबसे पहले साबुन से नहा लें।

इसके बाद चेहरे सहित पूरे शरीर पर इस उबटन को मलें। चेहरे और गर्दन पर फेस पैक की तरह यह उबटन लगाकर छोड़ दें। बाकी पूरे शरीर पर उबटन को कम से कम 10 से 15 मिनट तक रगड़ें। फिर सादे पानी से नहा लें। अब साबुन का उपयोग या बॉडी वॉश का उपयोग बिल्कुल ना करें।

इस उबटन को सप्ताह में 3 बार उपयोग करें और फिर देखें आपकी त्वचा में जो प्राकृतिक नूर चमकेगा, उसे देखकर सब हैरान रह जाएंगे। साथ ही इसे लगाने से त्वचा की कई समस्याएं दूर रहेंगी।

टैनिंग का असर नहीं होगा

ऐक्ने की समस्या दूर होगी

रिंकल्स नहीं आएंगे

अनचाहे बालों की ग्रोथ धीमी होगी

त्वचा में झुर्रियां नहीं आएंगी

झाइयों के कारण स्किन की रंगत नहीं बिगड़ेगी

त्वचा गोरी हो या सांवली टैनिंग हर तरह की स्किन को नुकसान पहुंचाती है। लेकिन सांवली स्किन वाली महिलाएं बेहद लकी होती हैं क्योंकि सूरज की हानिकारक किरणों का असर आपकी त्वचा पर गेहुंआ रंग की त्वचा और गोरी त्वचा से कम होता है। क्योंकि आपकी त्वचा में मौजूद मेलेनिन सूरज की अल्ट्रा वायलट किरणों से आपकी स्किन को प्राकृतिक छाते के रूप में सुरक्षा प्रदान करता है। एक और खास बात यह है कि सांवली त्वचा वाले लोगों को गोरी त्वचा और गेहुंआ रंग की त्वचा के लोगों की तुलना में स्किन कैंसर होने का खतरा बेहद कम होता है।

सांवली त्वचा पर बेसन लगाना बहुत फायदे का सौदा होता है। क्योंकि ऐसा करने से आपकी स्किन केयर प्रॉडक्टस की जरूर काफी कम हो जाती है। बेसन त्वचा से वाइटहेड्स और ब्लैकहेड्स दूर रखने में मदद करता है। बेसन में मौजूद ऐंटी-एजिंग तत्व आपकी त्वचा को सालों-साल जवां बनाए रखने में मदद करती हैं। चेहरे के अनचाहे बालों को हटाने में बेसन किसी रामबाण औषधि की तरह काम करता है।

बेसन आपकी त्वचा पर जमा डेड स्किन सेल्स को आसानी से हटाकर नई कोशिकाओं की चमक बढ़ाने में मदद करता है। तैलीय त्वचा यानी ऑइली स्किन के लिए बेसन बहुत लाभकारी होता है। यह आपकी त्वचा में ऑइल प्रॉडक्शन को नियंत्रित करता है। ओटमील आपकी त्वचा में प्राकृतिक और जरूरी चिकनाई को बढ़ाता है, जिससे त्वचा सॉफ्ट बनती हैं। ओटमील और बेसन का मिक्स त्वचा पर लगाने से त्वचा को नरिश करने में मदद मिलती है, जिससे ग्लो जल्दी बढ़ता है। बेसन आपकी त्वचा के रोम छिद्रों यानी स्किन पोर्स की गहराई से सफाई करता है। गीली त्वचा पर बेसन से बना उबटन या फेस पैक लगाने से बेसन के गुण त्वचा में जल्दी समा जाते हैं। इसलिए हम हमेशा कहते हैं कि उबटन और फेस पैक लगाने से पहले नहा लेने या फेसवॉश करने से बहुत अधिक लाभ मिलता है। और फेस पैक तथा उबटन आपकी त्वचा पर जल्दी असर दिखाते हैं।