iphone users यूजर्स को जरा सावधान हो जाने की जरूरत है। क्योंकि साइबर क्राइम के बढ़ते मामलों के बीच आपको पर्सनल जानकारी दूसरों से छिपाकर रखने की जरूरत है। अब आईफोन यूजर्स के लिए खतरे की घंटी है। क्योंकि यूजर्स की ब्राउजिंग हिस्ट्री और गूगल अकाउंट पर लीक होने का खतरा रहा है। फ्रॉड प्रिवेंशन सर्विस FingerprintJS एप्पल के Safari 15 ब्राउजर में एक बग का खुलासा किया है। यह यूजर्स का पर्सनल डेटा और ब्राउंजिंग हिस्ट्री लीक करता है।

ये एक ऐसा बग है जो macOS के अलावा आईफोन और आईपैड को भी अटैक करता है। इसका मतलब, अगर आपके पास कोई एप्पल फोन है जो कि खतरे में हैं। एक रिपोर्ट में कहा गया है कि यह बग Safari ब्राउजर में IndexedDB API यूज करने की वजह से आया है। जब आप ब्राउज करते हैं तब IndexedDB डेटा को स्टोर कर लेता है। सेम-ऑरिजिन पॉलिसी के तहत यह निर्धारित ​किया जाता है कि एक वेबसाइट का डेटा और डॉक्यूमेंट दूसरी वेबसाइट नहीं देख सकती।

परंतु, Safari 15 इस पॉलिसी का उल्लंघन करता पाया गया है। जब आप एक वेबसाइट पर जाते हैं तो सफारी डेटाबेस के साथ इंटरैक्ट करता है। इस रिपोर्ट के अनुसार एक जैसे नाम के साथ एक नया डेटाबेस सभी एक्टिव टैब और विंडोज में क्रिएट किया जाता है। सफारी ब्राउजर द्वारा बनाए गए डेटाबेस अब लीक हो रहे हैं। आपके द्वारा देखी जाने वाली वेबसाइट्स उस डेटाबेस को भी देख सकती हैं जो पहले तैयार किए गए हैं।

यूजर्स के लिए यह एक चिंता का विषय है जो आपको यह भी बता दें कि कुछ वेबसाइट्स के डेटाबेस आपकी खास जानकारी छिपी होती है। जब आप किसी ऐसी वेबसाइट को ओपन करते है। जो गूगल अकाउंट का इस्तेमाल करे जैसे YouTube, Google कैलेंडर, या Google Keep, तो इसके डेटाबेस में गूगल यूजर आईडी भी छुपी होती है।