उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनावों (UP assembly elections) से पहले समाजवादी पार्टी को तगड़ा झटका लगा है। दरअसल मुलायम सिंह यादव (Mulayam Singh Yadav) की बहू अपर्णा यादव (Aparna Yadav) पहले चरण के मतदान से तीन हफ्ते पहले भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) में शामिल हो गई हैं। 

अपर्णा यादव अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) के भाई प्रतीक यादव की पत्नी हैं, जो समाजवादी पार्टी के संरक्षक मुलायम सिंह यादव के छोटे बेटे हैं। वहीं भाजपा में शामिल होने के बाद अपर्णा यादव ()Aparna Yadav ने कहा कि वे हमेशा से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Modi) से प्रभावित रही है। उन्होंने कहा कि अब मैं कोशिश करना चाहती हूं और देश के लिए बेहतर करना चाहती हूं। मैं हमेशा भाजपा की योजनाओं से बहुत प्रभावित रही हूं और मैं पार्टी में अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करूंगी। वहीं अपर्णा यादव के भाजपा में शामिल होने के बाद उत्तर प्रदेश के उपमुख्यमंत्री केशव मौर्य (Deputy Chief Minister Keshav Maurya) ने अखिलेश यादव पर निशाना साधा है। उन्होंने कहा कि अखिलेश यादव अपने परिवार के साथ-साथ राजनीति में भी असफल हैं। उन्होंने कहा कि अपर्णा यादव ने कई दिनों की चर्चा के बाद भाजपा में शामिल होने का फैसला किया।

बता दें कि अपर्णा यादव (Aparna Yadav) ने 2017 में समाजवादी पार्टी के टिकट पर लखनऊ कैंट से विधानसभा चुनाव लड़ था, लेकिन वे भाजपा की रीता बहुगुणा जोशी (Rita Bahuguna Joshi) से हार गईं थी। बता दें कि जोशी ने कांग्रेस छोडकऱ भाजपा के टिकट पर ये चुनाव लड़ा था। फिलहाल अपर्णा एक संस्था बावेयर चलाती है, जो कि महिलाओं के मुद्दों पर काम करती है। उन्होंने लखनऊ में गायों के लिए एक आश्रय स्थल भी बनवाया है। इससे पहले भी अपर्णा प्रधानमंत्री मोदी की तारीफ कर चर्चाओं में आ चुकी हैं। अपर्णा ने भाजपा में शामिल होने का मौका देने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और मुख्यमंत्री आदित्यनाथ को धन्यवाद दिया। उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव (UP assembly elections) सात चरणों में फरवरी-मार्च में 10 फरवरी से शुरू होंगे। मतों की गिनती 10 मार्च को होगी।