एंटीगुआ और बरमूडा के प्रधानमंत्री गैस्टन ब्राउन ने एक बार फिर कहा है कि डोमिनिका को मेहुल चौकसी को भारत भेज दिया जाए। मेहुल चोकसी के मुद्दे पर कैबिनेट में चर्चा की जानकारी देते हुए ब्राउन ने यह भी कहा कि भगोड़ा कारोबारी इस समय डोमिनिका की समस्या है और यदि वह एंटीगुआ आ गया तो उनके लिए समस्या पैदा करेगा।

ब्राउन ने गुरुवार को फेसबुक पर पोस्ट किया, ''कैबिनेट में मेहुल चोकसी मामले में चर्चा हुई, हम डोमिनिका हाई कोर्ट के फैसले का इंतजार कर रहे हैं। चोकसी डोमिनिका में है और उस पर अवैध रूप से घुसने का आरोप है। वह अपने आरोपों पर जवाब देने के लिए 3 जून को कोर्ट में जाएगा।''

उन्होंने यह भी कहा कि एजेंसियां इस बात की जानकारी जुटा रही हैं कि वह एंटीगुआ से कैसे निकला। उन्होंने आगे कहा, ''चोकसी का दावा है कि उसका अपहरण किया गया। चोकसी इस समय डोमिनिका की समस्या है। यदि वह एंटीगुआ आ जाता है तो समस्या हमारी हो जाएगी। एंटीगुआ और बारमूडा कैबिनेट की प्राथमिकता है की चोकसी को डोमिनिका से भारत भेज दिया जाए।''