पश्चिम दिल्ली के निहाल विहार इलाके में दंगे होने का अफवाह फैलाने के मामले में सोमवार को एक और व्यक्ति की गिरफ्तारी के साथ ही दिल्ली के विभिन्न इलाकों में अफवाह फैलाने वाले गिरफ्तार लोगों की संख्या बढ़कर 41 हो गयी है। पश्चिम दिल्ली में गिरफ्तार अभिषेक शुक्ला (24) नाम के व्यक्ति के सोशल मीडिया पर 10,000 से अधिक फॉलोअर्स हैं और उसने अफवाह फैलाने के लिए इस प्लेटफॉर्म का इस्तेमाल किया था।


उसका मोबाइल फोन बरामद किया गया है और इस बात की पुष्टि हुई है कि उसने अफवाह फैलाने के लिए अपने सोशल मीडिया अकाउंट से पोस्ट किया था। इससे संबंधित आगे की जांच की जा रही है। इस बीच राजधानी में दंगे को लेकर अफवाह इतनी जबरदस्त फैली कि दिल्ली पुलिस के पास 1880 फोन कॉल आये और अफवाह फैलाने वाले 41 लोगों को पुलिस ने अबतक गिरफ्तार किया है।


पुलिस सूत्रों के अनुसार सर्वाधिक 1013 फोन कॉल पश्चिम दिल्ली पुलिस क्षेत्र से प्राप्त हुए और दक्षिणी क्षेत्र से 538 कॉले प्राप्त हुई। उत्तरी पुलिस क्षेत्र से 244 काले आयीं जबकि मध्य दिल्ली से 41, पूर्वी दिल्ली क्षेत्र से 12 और नयी दिल्ली से 30 कॉले आयीं। सूत्रों के अनुसार पश्चिमी पुलिस क्षेत्र में 481 कॉले केवल पश्चिम दिल्ली से जबकि बाहरी दिल्ली से 222 और द्वारका से 310 कॉले आयीं। दक्षिणी पुलिस क्षेत्र से दक्षिण पूर्व दिल्ली से 413 और दक्षिण दिल्ली से 127 कॉले आयीं।


उत्तरी पुलिस क्षेत्र से रोहिणी से 168 और उत्तर पश्चिम दिल्ली से 54 कॉले आयीं जबकि नयी दिल्ली से एक भी कॉल नहीं आयीं। उत्तर पश्चिमी दिल्ली में अफवाह फैलाने के आरोप में 21 लोग गिरफ्तार किये गये हैं जबकि दक्षिणी दिल्ली में 18 लोग गिरफ्तार किया गया है वहीं रोहिणी में एक व्यक्ति को पुलिस ने पकड़ा है। अफवाह के कारण दिल्ली के विभिन्न इलाकों में हड़कंप मच गया और लोग सड़कों पर निकल पड़़े तथा अफरातफरी का माहौल उत्पन्न हो गया।


इस अफवाह के कारण लोगों ने न केवल पुलिस को फोन किया बल्कि अपने पड़ोसी व रिश्तेदारों को फोन कर वास्तविकता जानना चाहा। जब दिल्ली पुलिस ने सोशल मीडिया पर इन अफवाहों का खंडन किया और टेलीविजन चैनलों पर इस खंडन की खबरे आयीं तब लोगों ने राहत की सांस लीं और इस तरह राजधानी में एक बड़ा हादसा होने से बच गया।