उत्तराखंड में अगले साल विधानसभा चुनाव होने जा रहे हैं. दिल्ली की सत्ताधारी आम आदमी पार्टी इन चुनाव में पहली बार मैदान में उतर रही है. उत्तराखंड में फ्री बिजली जैसे कई मुद्दों पर आप अपनी सियासी जमीन तैयार कर रही है. वहीं दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने एक और दांव खेला है. उन्होंने दिवंगत पर्यावरणविद् सुन्दरलाल बहुगुणा को देश का सर्वोच्च नागरिक सम्मान भारत रत्न दिए जाने की मांग कर डाली है.

अरविंद केजरीवाल ने इसके लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को चिट्ठी भी लिखी है. केजरीवाल ने इस चिट्ठी में लिखा, दिल्ली सरकार की ओर से मेरा आपसे अनुरोध है कि श्री सुंदरलाल बहुगुणा जी को भारत रत्न की उपाधि से सम्मानित किया जाए. हमारा मानना है कि श्री सुंदरलाल बहुगुणा जी को भारत रत्न प्रदान करने से इस सम्मान का ही सम्मान होगा. मैं उम्मीद करता हूं कि आप दिल्ली सरकार के इस निवेदन पर गौर करेंगे.

इससे पहले, मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने गुरुवार को दिल्ली विधानसभा परिसर में पर्यावरणविद स्वर्गीय सुंदरलाल बहुगुणा की याद में वृक्षारोपण और उनके चित्र का अनावरण किया था. गौरतलब है कि जाने माने पर्यावरणविद एवं उत्तराखंड में चिपको आंदोलन के प्रणेता सुंदरलाल बहुगुणा का 21 मई को निधन हो गया था. चिपको आंदोलन वन संरक्षण अभियान था जो 1973 में शुरू किया गया था.