पश्चिम बंगाल के कोलकाता में गृह मंत्री अमित शाह की रैली के दौरान 'गोली मारो' जैसे भड़काऊ नारे लगाने वालों में से एक अन्य आरोपी को गिरफ्तार किया गया है। इस मामले में गिरफ्तार आरोपियों की संख्या चार हो गयी और अन्य 25 से अधिक आरोपियों की पहचान कर ली गयी है।


आधिकारिक सूत्रों ने मंगलवार को बताया कि उत्तर 24 परगना में सोमवार को पुलिकर्मियों ने न्यू मार्केट थाने और घोला में संयुक्त छापे मारी में एक अन्य व्यक्ति को गिरफ्तार किया जिसकी पहचान सुजित बरुआ के रूप में हुई है। वह भारतीय जनता पार्टी का नेता है।


राज्य की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने हिंसा भड़काने वाले लोगों के खिलाफ कार्रवाई के आदेश के बाद कल यह गिरफ्तारी की गयी। पुलिस ने अभी तक 25 आरोपियों की पहचान की है जो रविवार अपराह्न शहीद मीनार पर श्री शाह की रैली के दौरान 'गोली मारे ---को जैसे' भड़काऊ नारे लगा रहे थे।


सीसीटीवी फुटेज से पहचान के बाद रविवार देर रात शहर की पुलिस ने विभिन्न हिस्सों से तीन आरोपियों को गिरफ्तार किया था। आरोपियों की पहचान सुरेन्द्र कुमार तिवारी, ध्रुव बोस और पंकज प्रसाद के रूप में हुई थी। ये सभी भाजपा अधिवक्ता सेल के सदस्य हैं। तीनों आरोपियों को मध्य और दक्षिण कोलकाता के न्यू मार्केट, हरिदेबपुर और भोवानीपुर से गिरफ्तार किया गया था। आरोपी ध्रुब बोस (73) को सर्शत जमानत दे दी गयी थी और अन्य दो को चार मार्च तक पुलिस हिरासत में भेज दिया गया।