कुछ यूजर्स गूगल प्ले स्टोर पर ऐप ना उपलब्ध होने पर किसी भी थर्ड पार्टी ऐप स्टोर या वेबसाइट से ऐप को डाउनलोड कर लेते हैं। कई लोग मोडेड ऐप के लिए ऐसा करते हैं। लेकिन, ये ऐप्स मैलवेयर इंफैक्टेड हो सकते हैं और आपके फोन के साथ-साथ आपको भी फाइनेंशियली नुकसान पहुंचा सकते हैं। 

यह भी पढ़ें : असम, मेघालय और अरुणाचल प्रदेश में बाढ़ और भूस्खलन से 29 लोगों की दर्दनाक मौत

अच्छे मोबाइल ब्रांड्स लगातार मोबाइल के लिए सिक्योरिटी अपडेट और ओएस जारी करते रहते हैं। इसमें ज्यादातर जरूरी है क्योंकि ये आपके डिवाइस की सिक्योरिटी को इम्प्रूव करते हैं। इसके अलावा ये आपके फोन को मैलेशियस अटैक से भी बचाता है। 

पब्लिक Wi-Fi नेटवर्क फ्री या सस्ते होते हैं। लेकिन, ये काफी सिक्योरिटी रिस्क वाले होते हैं। कई बार हैकर्स इसके जरिए आपकी जानकारी चुराने के फिराक में होते हैं। अगर आप पब्लिक Wi-Fi का यूज करना चाहते हैं तो VPN का भी इस्तेमाल जरूर करें। 

यह भी पढ़ें : गृहमंत्री अमित शाह ने युवाओं को सभी क्षेत्रों में सक्षम बनाने की बनायी नीति

अपने फोन में डाउनोलड ऐप्स को रेगुलर इंटरवल पर जरूर अपडेट करते रहे। इसे आप गूगल प्ले स्टोर से जाकर कर सकते हैं। अगर किसी ऐप में लंबे समय से अपडेट नहीं आया है तो ऐसे ऐप्स को फोन से भी डिलीट कर दें। ये फोन के लिए खतरनाक साबित हो सकते हैं।