केंद्रीय गृह मंत्री Amit Shah ने पंजाब के मुख्यमंत्री Charanjeet Singh Channi को आश्वासन दिया कि वह आम आदमी पार्टी के राष्ट्रीय संयोजक अरविंद केजरीवाल पर अलगाववादी तत्वों के साथ कथित रूप से मिलीभगत के आरोपों को "व्यक्तिगत रूप से" देखेंगे।

गृह मंत्री ने बिना किसी का नाम लिए कहा, इस विषय पर मैं आपको आश्वस्त करना चाहता हूं कि किसी को भी देश की एकता और अखंडता के साथ खिलवाड़ नहीं करने दिया जाएगा। Amit Shah ने कहा कि यह गंभीर चिंता का विषय है कि एक राजनीतिक दल राष्ट्रविरोधी, अलगाववादी और प्रतिबंधित संगठनों के संपर्क में है।

इससे पहले, Channi ने शाह को एक पत्र में सूचित किया था कि प्रतिबंधित संगठन सिख फॉर जस्टिस (SFJ) पंजाब के मतदाताओं को 20 फरवरी को होने वाले विधानसभा चुनाव में आम आदमी पार्टी को वोट देने के लिए प्रेरित कर रहा है।
Channi ने पत्र में लिखा कि "यह समझा जाता है कि यह देश की सुरक्षा और अखंडता से समझौता करने का एक बहुत ही गंभीर मुद्दा है, और इस प्रकार इसकी गहन जांच की आवश्यकता है। मैं आपसे आग्रह करूंगा कि इस संबंध में उचित कार्रवाई करने के लिए तुरंत इस मामले की जांच करवाएं, ”।
पत्र का जवाब देते हुए शाह ने कहा कि “अलगाववादी संगठन के संपर्क में रहने और चुनाव के लिए उसकी मदद लेने का ऐसा कृत्य देश की एकता के लिए एक बहुत ही गंभीर मुद्दा है। यह शर्मनाक है कि ऐसे लोग सत्ता में आने के लिए आतंकवादियों से हाथ मिला रहे हैं ”।