रूसी महिला रूसी SPY की चौंका देने वाली पोल खोल दी है। मर्दों को लेकर महिला ने जो बातें बताई है उसे हर कोई हैरान है। खुलासा करते हुए रूसी महिला जो की रूस के लिए जासूसी कर चूकी है, ने कहा कि उन्हें सीक्रेट एजेंट की ट्रेनिंग दी गई जिससे में मर्दों को वश में करना सिखाया जाता था और फिर मिशन के लिए भेजा जाता है।

महिला ने बताया कि वो जब 20 साल की थी तभी उसे एक मिशन पर भेज दिया गया, जहां ड्रग गैंग और मानव तस्करी से जुड़े लोगों को निशाना बनाना था लेकिन इस मिशन में कुछ गड़बड़ हो गई और उन्हें वहां से भागना पड़ा।

मिलिट्री एकेडमी में हुई ट्रेनिंग


इस रूसी महिला का नाम आलिया है। आलिया ने बताया कि वो व्लादिमीर पुतिन के शासनकाल में जासूसी का काम कर चुकी है। सोवियत संघ में जन्मी आलिया फिलहाल एक पीआर कंपनी की मालकिन हैं। महिला ने बताया कि उसे मिलिट्री एकेडमी में कई टेकनिक सिखाई गई। उन्हें सिखाया गया कि कैसे लोगों को सेड्यूस, मैनिपुलेट और अपने काम के लिए मनवाना होता है। इसके साथ ही आलिया को कई तरह के हथियार चलाने की भी ट्रेनिंग दी गई।

गुड लुक्स से फंसाया ड्रग लीडर

इस मिशन के लिए उन्हें खास ट्रेनिंग दी गई और बताया गया कि कैसे अपने गुड लुक्स का ज्यादा से ज्यादा इस्तेमाल कर सकती हैं। आलिया ने बताया कि पुरुषों को कैसे प्यार में फंसाकर उनसे प्रपोज करवाना है, मैं ये सभी महिलाओं को बता सकती हूं। एकेडमी में वो लोग हमें पढ़ा रहे थे। वो सिर्फ बोलते नहीं थे बल्कि कर के भी दिखाते थे।
वो आगे बताती हैं- सिडक्शन एक तय रणनीति से की जाती है और उसमें समय लगता है। सेक्शुअल एजुकेशन भी बहुत जरूरी है क्योंकि आपको बेस्ट लवर बनना होता है। उन्होंने बताया कि उनका आखिरी मिशन एक ड्रग गैंग के लीडर को सेड्यूस करना और उसके गैंग का भंडाफोड़ करना था। आलिया ने ड्रग लीडर को टारगेट किया और उसे प्यार के जाल में फसाकर जरूरी जानकारी निकाली।