एसयूवी मामले में महाराष्ट्र के गृह मंत्री अनिल देशमुख को लेकर चल रहे संकट के बीच, राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) सांसद सुप्रिया सुले ने राज्य की स्थिति पर चर्चा के लिए सोनिया गांधी से मुलाकात की। बुधवार की देर रात हुई बातचीत के बाद, सुले ने ट्वीट किया, बहुमूल्य मार्गदर्शन के लिए माननीय श्रीमती सोनिया गांधीजी का बहुत-बहुत शुक्रिया। आपसे बातचीत कर हमेशा खुशी मिलती है।

महाराष्ट्र के गृह मंत्री अनिल देशमुख के खिलाफ घूसखोरी का आरोप सामने आने के बाद सोनिया गांधी के साथ राकांपा के किसी नेता की यह पहली मुलाकात है। रविवार को, सोनिया गांधी ने कमलनाथ को शरद पवार से मिलने के लिए भेजा था। उद्धव ठाकरे सरकार के बढ़ते संकट के बीच महागठबंधन का एक प्रतिनिधिमंडल राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी से मुलाकात करेगा। कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष नाना पटोले ने ट्वीट कर ये बात कही।

पटोले और राकांपा के राष्ट्रीय प्रवक्ता नवाब मलिक ने भाजपा पर ये कहते हुए हमला बोला कि पार्टी सत्ता के लालच में संवैधानिक पदों का दुरुपयोग कर रही है और अपने उद्देश्यों को हासिल करने के लिए वैधानिक मानदंडों का उल्लंघन कर रही है। पटोले ने कहा, यह सीएम का विशेषाधिकार है कि वो कब बोलें। विपक्ष उन्हें बात करने के लिए मजबूर नहीं कर सकता। जब पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह नहीं बोलते थे, तो उन पर भी इसी तरह का आरोप लगाया गया था, लेकिन अब हमारे पास एक बातूनी पीएम (नरेंद्र मोदी) हैं और सभी गवाह हैं कि उन्होंने देश को कैसे बर्बाद किया है। पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस के इस विवाद को खारिज करते हुए कि गठबंधन कमजोर हो गया है, मलिक ने कहा कि शिवसेना-एनसीपी-कांग्रेस सरकार बहुत मजबूत है और तमाम कोशिशों के बावजूद भाजपा इसे उखाड़ नहीं पाएगी।