वाशिंगटन । एक अमेरिकी विशेषज्ञ का मानना है कि भारत और चीन के बीच डोकलाम में तनातनी पर ट्रम्प प्रशासन की स्थिति असहज हो गई थी। वह भारत और चीन के विवाद में पड़ना नहीं चाहता था। 

नेशनल सिक्योरिटी काउंसिल (व्हाइट हाउस) के नवनियुक्त निदेशक जेफ स्मिथ ने शुक्रवार को अपनी रिपोर्ट में कहा कि डोकलाम संकट की वजह से ट्रम्प प्रशासन की स्थिति बेहद असहज हो गई थी। यह वो विवाद था जिसमें वह बिलकुल नहीं पड़ना चाहते थे। 

स्मिथ ने कहा कि इस विवाद के दौरान अगर आप अमेरिकी प्रशासन के बयानों की पीछे के अर्थ को समझें, आपको लगेगा कि वास्तव में जापान भारत की इस स्थिति का ज्यादा समर्थन करता है। 

 आखिर में आपसी सहमति से दोतरफा समझौता करते हुए दोनों देशों ने न्यूनतम जरूरतों को पूरा किया। उन्होंने कहा हालांकि भारत ने कई मायनों में चीन और समूचे विश्व को यह दिखा दिया कि उसके उच्च मानक हैं। वह भले ही नरमी से बात करे लेकिन उसकी ताकत में कहीं कोई कमी नहीं है। भारत ने अपना लक्ष्य स्पष्ट कर दिया और उसे हासिल भी कर लिया।