सुपरपावर अमेरिका ने अब एक ऐसा खतरनाक हथियार बना लिया है जिससें दुनिया का कोई भी देश बच नहीं सकता। रूस-चीन के साथ जारी तकरार के बीच अमेरिका ने एयर-ब्रीथिंग हाइपरसोनिक हथियार बनाकर उसका सफल परीक्षण कर लिया है। इसकी जानकारी रक्षामंत्रालय पेंटागन ने दी है। पेंटागन का कहना है कि यह हथियार ध्वनि से 5 गुना ज्यादा की गति से हमला करने में सक्षम है।

पेंटागन के अनुसार हाइपरसोनिक एयर ब्रीथिंग वेपन कॉन्सेप्ट टेस्ट पिछले हफ्ते किया गया। इससे अमेरिकी मिलिट्री की ताकत को मजबूत हो गई है। अमेरिका इस साल के अंत तक ऐसे ही और टेस्ट करेगा। हाइपरसोनिक हथियार एक घंटे में करीब 6200 किलोमीटर की दूरी तय कर दुश्मन को तबाह कर सकता है।

हालांकि अमेरिका से पहले इसी साल जुलाई में रूस ने Zircon हाइपरसोनिक क्रूज़ मिसाइल का परीक्षण किया था जिसको रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन का प्रोजेक्ट कहा गया था।

यह नई अमेरिकी मिसाइल 2700 किलोमीटर तक मार कर सकती है। इस मिसाइल के साथ ही अमेरिका अब रूस और चीन पर दूर से ही भीषण हमला करने में सक्षम हो गया है।

अमेरिका अब अपनी मिसाइल को 3 लाख वर्ग मील के इलाके में कहीं भी छिपा सकता है। अगर इस मिसाइल को लंदन शहर में तैनात कर दिया जाए तो इससे आसानी से रूस के पूर्वी इलाके तक को निशाना बनाया जा सकता है।