सत्रहवीं लोकसभा के लिए पहले चरण के चुनाव में गुरुवार को कड़ी सुरक्षा के बीच बीस राज्यों की 91 सीटों पर मतदान होगा, जिसमें कई केन्द्रीय मंत्रियों और दिग्गज नेताओं की चुनावी किस्मत ईवीएम में बंद हो जायेगी। पहले चरण में 14 करोड़ 20 लाख 54 हजार 978 मतदाता अपने मताधिकार का इस्तेमाल कर 1279 उम्मीदवारों के भाग्य का फैसला करेंगे। आँध्र प्रदेश विधानसभा की सभी 175, अरुणाचल प्रदेश की सभी 60, सिक्किम की सभी 32 और ओडिशा की 147 में से 28 विधानसभा सीटों के लिए भी गुरुवार को ही वोट डाले जायेगे।


मतदान सुबह सात बजे शुरु होगा और अधिकतर निर्वाचन क्षेत्रों में शाम पांच बजे तक चलेगा। सभी राज्यों में सुरक्षा के कड़े इंतजाम किये गये है और मतदान के लिए पूरी तैयारियां कर ली गयी हैं। इसके लिए एक लाख 70 हजार मतदान केन्द्र बनाये गये है। इस चरण में केन्द्रीय मंत्रियों नितिन गडकरी, वी के सिंह, सत्यपाल सिंह, अजय टम्टा के अलावा कांग्रेस के हरीश रावत, प्रदीप टम्टा, लोक जनशक्ति पार्टी के चिराग पासवान, रालोद के अजित सिंह तथा जयंत चौधरी, एआईएमआईएम के असदुद्दीन ओवैसी, भाजपा के संजीव कुमार बालियान, रमेश पोखरियाल निशंक, तथा हिन्दू-आवामी मोर्चा के जीतन राम मांझी की चुनावी किस्मत का फैसला होगा।


सपा की तबस्सुम बेगम, बसपा के हाजी मोहम्मद याकूब और नेशनल कांफ्रेस के मोहम्मद अकबर लोन जैसे नेताओं का चुनावी भविष्य भी ईवीएम में कैद हो जायेगा। पहले चरण मे आंध्र प्रदेश की सभी 25 तथा उत्तराखंड की सभी पांच, उत्तर प्रदेश की आठ, महाराष्ट्र की सात, असम की पाँच, बिहार और ओडिशा की चार-चार, अरुणाचल प्रदेश, मेघालय, पश्चिम बंगाल और जम्मू-कश्मीर की दो-दो तथा छत्तीसगढ़, मिजोरम, सिक्किम, त्रिपुरा, मणिपुर, अंडमान-निकोबार द्वीप समूह और लद्दाख की एक-एक लोकसभा सीटों के लिए मत डाले जायेंगे।


पहले चरण में पुरुष मतदाता सात करोड़ 21 लाख 53 हजार 244 है जबकि महिला मतदाताओं की संख्या छह करोड़ 98 लाख 5 हजार 370 है तथा किन्नर मतदाताओं की संख्या 7764 है। इस चरण में आंध्रप्रदेश में सबसे अधिक 3करोड 93 लाख 45 हजार 717 मतदाता हैं जबकि सबसे कम 54 हजार 266 लक्ष्यद्वीप में हैं। आंध्रप्रदेश में सर्वाधिक 3957 किन्नर मतदाता है जबकि मिजोरम में सबसे कम छह किन्नर मतदाता हैं। अरुणाचल प्रदेश, मेघालय, नागालैंड, सिक्किम और लक्ष्यद्वीप में एक भी किन्नर मतदाता नहीं है। इस चरण में तेलंगाना में सर्वाधिक 443 उम्मीदवार हैं जबकि लक्ष्यद्वीप में सबसे कम छह उम्मीदवार हैं।