सीईसी सुशील चंद्रा ने चुनाव संबंधी तैयारियों को लेकर बड़ा खुलासा किया है। इसके मुताबिक अब सभी मतदाताओं को उम्मीदवारों के बारे में सबकुछ पता होना चाहिए। राजनीतिक पार्टियों को अखबारों, टेलीविजन और वेबसाइटों के जरिए मतदाताओं तक उम्मीदवारों की जानकारी पहुंचानी होगी। अब अगले साल की शुरुआत में पांच राज्यों में चुनाव होने हैं, जिसके लिए चुनाव आयोग ने तैयारियां शुरू कर दी हैं।

चुनाव आयोग सभी संबंधित राज्यों में जाकर समीक्षा कर रहा है। इस बीच मुख्य चुनाव आयुक्त सुशील चंद्रा और आयुक्त राजीव कुमार और अनूप चंद्र दो दिवसीय दौरे पर गोवा पहुंचे हैं।यहां मुख्य चुनाव आयुक्त सुशील चंद्रा ने बताया, 'मतदाताओं को उम्मीदवार के बारे में सारी जानकारी मिलनी चाहिए। राजनीतिक पार्टियों को अखबार, टीवी और वेबसाइट पर बताना होगा कि उनके उम्मीदवार का क्रिमिनल रिकॉर्ड है या नहीं, अगर है तो राजनीतिक पार्टियां मतदाताओं को वह वजह भी बताएं जिसके कारण एक साफ छवि वाले उम्मीदवार की बजाय आपराधिक रिकॉर्ड वाले कैंडिडेट को चुना जा रहा है।'सीईसी चंद्रा ने कहा कि राज्य के सीमावर्ती इलाकों पर कड़ी निगरानी रखी जाएगी। इतना ही नहीं सभी बैंकों को भी निर्देश दे दिए गए हैं कि अगर कोई ट्रांजेक्शन संदिग्ध लगे तो तुरंत उसकी जानकारी दें।