बैंक ग्राहकों के लिए जरूरी खबर है कि आज से 2 दिन बाद यानी 1 अक्टूबर से तीन बैंकों के चेकबुक खराब हो जाएंगे। इन बैंकों में ओरिएंटल बैंक ऑफ कॉमर्स और यूनाइटेड बैंक ऑफ इंडिया शामिल है। 1 अक्टूबर 2021 से ओरिएंटल बैंक, इलाहाबाद बैंक और यूनाइटेड बैंक ऑफ इंडिया की पुरानी चेकबुक बेकार हो जाएंगी। ओरिएंटल और यूनाइटेड बैंक का विलय पंजाब नेशनल बैंक में 1 अप्रैल 2020 को हो चुका है और अब यह प्रभावी हो चुका है। इसकी जानकारी पंजाब नेशनल बैंक (PNB) ने दी है। अब इन बैंकों की पुरानी चेकबुक बेकार मानी जाएगी।

पीएनबी ने ट्वीट करके कहा है कि 1 अक्टूबर से ई-ओबीसी और ई-यूएनआई की पुरानी चेक बुक काम नहीं करेंगी। ग्राहकों से कहा गया है कि जिन लोगों के पास ओबीसी और यूएनआई बैंक की पुरानी चेक बुक हैं, वे जल्द नई चेकबुक से रिप्लेस करवा लें, अन्यथा 1 अक्टूबर से पुरानी चेक बुक बेकार हो जाएंगी। नई चेकबुक पीएनबी के अपडेटेड आईएफएससी कोड और एमआईसीआर के साथ आएंगी।

नई चेक बुक के लिए यहां करें आवेदन
नई चेक के लिए ग्राहक को बैंक की ब्रांच में जाएं। आप ऑनलाइन भी चेक के लिए आवेदन कर सकते हैं। आप इंटरनेट बैंकिंग या मोबाइल बैंकिंग के जरिए चेकबुक के लिए अप्लाई कर सकते हैं।

टोल फ्री नंबर पर कर करें कॉल
अगर आप चाहते हैं कि चेक से ट्रांजैक्शन में कोई दिक्कत न हो तो नई चेक बुक लेना जरूरी है। ग्राहक बैंक जाकर आसानी से नई चेक बुक ले सकते हैं। ग्राहक इसके बारे में अधिक जानकारी के लिए टोल फ्री नंबर 18001802222 पर फोन कर सकते हैं।

क्या होता है IFSC और MICR कोड
इंडियन फाइनेंशियल सिस्टम कोड (IFSC) 11 अंकों का एक कोड होता है। इस कोड में शुरू के 4 अक्षर बैंक के नाम को दर्शाते हैं। IFSC का इस्तेमाल ऑनलाइन पेमेंट के दौरान किया जाता है। प्रत्येक बैंक का एक अलग IFSC कोड होता है। जबकि मैग्नेटिक इंक कैरेक्टर रिकॉग्निशन (MICR) कोड एक 9 अंकों का कोड होता है। यह उन बैंक शाखाओं की पहचान करता है जो इलेक्ट्रॉनिक क्लियरिंग सिस्टम का इस्तेमाल करते हैं।