अखिलेश यादव ने यूपी चुनाव (UP elections) से पहले एक और बड़ा ऐलान किया है. उन्होंने कहा कि समाजवादी पार्टी की सरकार बनेगी तो पुरानी पेंशन व्यवस्था (old pension system)  को बहाल कर दिया जाएगा. यह समाजवादी पार्टी के घोषणा पत्र में शामिल किया जाएगा. 2005 से पूर्व कर्मचारियों को मिलने वाली पुरानी पेंशन व्यवस्था लागू की जाएगी.

अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) ने कहा कि भाजपा परिवारवाद का आरोप लगाती है लेकिन कम से कम हमारे परिवार को तो ले रही है. परसेप्शन की लड़ाई में भाजपा हार गई है. हम आगे हैं. आउटसोर्स अच्छी प्रथा नहीं है.

सपा के मुखिया ने कहा कि हमारी पार्टी जो कहती है वो करती है, आपको कथनी और करनी में कहीं भेदभाव नज़र नहीं आएगा. उन्होंने कहा कि सपा सरकार में नेता जी ने यश भारती सम्मान दिया था, उसे फिर शुरू करेंगे. नगर भारती सम्मान भी देंगे. उम्र दराज कर्मचारियों के सपोर्ट और सोशल सिक्योरिटी के लिए पुरानी पेंशन बहाली की जाएगी.

चंद्रशेखर आजाद को समर्थन के सवाल पर अखिलेश यादव ने कहा कि गोरखपुर के कई लोग संपर्क में हैं. उनसे बात करके निर्णय लिया जाएगा. अखिलेश ने कहा कि नरेश अग्रवाल से अभी फोन पर बात हुई है उनका कहना है कि नितिन अग्रवाल तो पहले से ही बीजेपी में हैं. ये किसने कहा कि वह बीजेपी ज्वाइन करेंगे.