उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनावों (UP assembly elections) से पहले समाजवादी पार्टी (SP) के प्रमुख अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) ने सनसनीखेज दावा किया है। दरअसल अखिलेश यादव का कहना है कि उनका गठबंधन यूपी में 400 सीटेंगे जीतेगा और विपक्ष के खाते में महज तीन सीटें आएंगे। बता दें कि यूपी चुनावों के लिए अखिलेश ने रालोद के साथ गठबंधन किया है। 

अपने प्रचार अभियान के दौरान अलीगढ़ में मौजूद यादव ने एआईएमआईएम सांसद असदुद्दीन ओवैसी (Attack on Asaduddin Owaisi) की कार पर गोलीबारी की घटना की निंदा की। उन्होंने कहा कि भाजपा को जवाब देना चाहिए कि क्या माफिया ने एक राजनीतिक नेता को देखकर गोली चलाई। यह कानून व्यवस्था की सबसे बड़ी विफलता है। हमने कई बार उनकी कानून व्यवस्था देखी है। बता दें कि एआईएमआईएम भी यूपी की 100 सीटों पर चुनाव लड़ रही है। उन्होंने कहा कि अब समय बहुत कम बचा है। बदलाव के लिए यूपी की जनता (UP assembly elections)  ने मन बन लिया है। अलीगढ़ के लोग ताले लगाने का काम करेंगे। पश्चिम में भाजपा पर अलीगढ़ का ताला लगेगा। यहां लोगों को कुछ नहीं मिला है। कोरोना के समय मे सपा की एम्बुलेंस काम आई थीं। सपा के लैपटाप काम आए। सभी लोग भाजपा का सफाया करेंगे।

राज्य में सत्तारूढ़ भाजपा सरकार पर हमला करते हुए सपा सुप्रीमो ने कहा कि अगर हाथरस बलात्कार पीडि़ता (Hathras rape victim) को उचित उपचार मिलता तो वह जीवित होती। हाथरस की बेटी का परिवार न्याय चाहता था, वे उसका सम्मानपूर्वक अंतिम संस्कार करना चाहते थे, लेकिन इस सरकार के लोगों ने क्या किया? उन्होंने ऐसा नहीं होने दिया। अगर उसे अस्पताल में उचित इलाज मिलता, तो शायद वह आज जिंदा होती। पूर्व मुख्यमंत्री (Akhilesh Yadav) ने कहा कि किसानों को अपनी मांगें मनवाने के लिए और कृषि कानून को वापस कराने के लिए एक साल तक दिल्ली की चौखट पर धरना (Farmers Protest in Delhi) देना पड़ा। उत्तर प्रदेश, हरियाणा, पंजाब समेत अन्य प्रदेशों के किसान भी धरने में शामिल हुए। भाजपा ने किसानों का विरोध आगामी विधानसभा चुनाव को देखते हुए पीछे कदम हटाकर तीनों किसी कानून वापस ले लिए, जब तीनों कृषि कानून बनाए जा रहे थे उस समय भारतीय जनता पार्टी ने उनको सही तरीके से क्यों नहीं समझाया।