समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने लोकसभा से इस्तीफा दे दिया है। मंगलवार को अखिलेश यादव ने लोक सभा अध्यक्ष ओम बिरला से मुलाकात कर उन्हें अपना इस्तीफा सौंप दिया। बताया जा रहा है कि उत्तर प्रदेश विधानसभा में सपा विधायक दल के नेता के तौर पर अखिलेश यादव अब विपक्ष की कमान संभालते नजर आएंगे।

ये भी पढ़ेंः ममता बनर्जी के राज में मचा कोहराम, 8 लोगों को जिंदा जलाया गया, भीड़ ने दमकल की गाड़ियों को रोका


समाजवादी पार्टी के ही एक अन्य लोकसभा सांसद आजम खान ने भी लोकसभा से इस्तीफा दे दिया है। 2019 के लोक सभा चुनाव में अखिलेश यादव आजमगढ़ और आजम खान रामपुर से सांसद चुने गए थे। 2022 के विधानसभा चुनाव में अखिलेश यादव पहली बार विधानसभा चुनाव लड़े थे। इस चुनाव में करहल से सपा उम्मीदवार के तौर पर अखिलेश यादव, केंद्रीय मंत्री एवं भाजपा उम्मीदवार एसपी सिंह बघेल को हरा कर विधायक निर्वाचित हुए। 10 मार्च को चुनावी नतीजा निकलने के बाद से अखिलेश के अगले कदम को लेकर यह कयास लगाया जा रहा था कि वो करहल से इस्तीफा देकर सांसद बने रहेंगे या फिर लोकसभा से इस्तीफा देकर विधायक के रूप में विधानसभा में विपक्ष के नेता के तौर पर भाजपा सरकार को घेरते नजर आएंगे। तमाम राजनीतिक परि²श्यों पर विचार करते हुए आखिरकार अखिलेश यादव ने लोकसभा से इस्तीफा देकर विधायक बने रहने का ही फैसला किया।

ये भी पढ़ेंः घर में पैर भी नहीं रख सकेंगे चोर, मार्केट से खरीद लाएंगे 300 रुपये की ये चीज

आजम खान ने भी अखिलेश यादव के रास्ते पर चलते हुए रामपुर लोकसभा सीट से इस्तीफा दे दिया है। हाल ही में हुए विधानसभा चुनाव में आजम खान ने भी सपा उम्मीदवार के तौर पर रामपुर विधानसभा सीट से विधायक का चुनाव जीता था और उन्होंने भी सांसद की बजाय विधायक रहकर राजनीतिक संघर्ष करने का फैसला किया।