यूपी के पूर्व मुख्यमंत्री व राजनेता अखिलेश यादव ने सवाल उठाए हैं कि विकास दुबे सरेंडर हुआ या गिरफ्तार। समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष और यूपी के पूर्व सीएम अखिलेश यादव ने पूछा है कि विकास दुबे गिरफ्तार हुआ है या उसने सरेंडर किया है। इसके साथ ही अखिलेश ने विकास दुबे की गिरफ्तारी को लेकर कई और सवाल खड़े किए हैं।
अखिलेश ने कहा है कि सरकार यह साफ करे कि विकास दुबे को गिरफ्तार किया गया है या उसने आत्मसमर्पण किया है। उन्होंने इस सवाल के साथ ही मांग की है कि विकास दुबे की सीडीआर (कॉल डीटेल रेकॉर्ड) सार्वजनिक की जाए।
यूपी के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश ने ट्वीट किया, 'खबर आ रही है कि कानपुर-कांड का मुख्य अपराधी पुलिस की हिरासत में है। अगर यह सच है तो सरकार साफ करे कि यह आत्मसमर्पण है या गिरफ़्तारी? साथ ही उसके मोबाइल की CDR सार्वजनिक करे जिससे सच्ची मिलीभगत का भंडाफोड़ हो सके।'
अखिलेश यादव ने कानपुर शूटआउट को लेकर ही इससे पहले ट्वीट किया, 'अगर लोग अपनी दिव्य दृष्टि का सदुपयोग अपराधियों को सच में तलाशने में करें तो बेहतर है। न कि दिव्य शक्ति का दुरुपयोग प्रतिपक्षी दलों पर निरर्थक केस ठोकने में। कानपुर की घटना ने यूपी की भाजपा सरकार का चोगा भी उतार दिया है और मुखौटा भी।'