प्रदेश कांग्रेस ने दावा किया है कि राज्य की चौदहों सीटों पर उसके मजबूत प्रत्याशी उतारे जाने के बाद साबित हो गया कि उसकी किसी भी पार्टी से गुपचुप चुनावी गठजोड़ नहीं है। सच तो यह है कि भाजपा और एआईयूडीएफ की चुनावी स्क्रिप्ट एक ही जगह लिखी जाती है।


यहां राजीव भवन में पत्रकारों के सामने प्रदेश कांग्रेस के महासचिव व वरिष्ठ प्रवक्ता किशोर भट्टाचार्य ने कहा कि भाजपा लगातार कांग्रेस पर एआईयूडीएफ से गठजोड़ के आरोप लगा रही है। जबकि वैसा कुछ नहीं है। यह अब साबित भी हो गया है।


भट्टाचार्य ने कहा कि लगता है अपनी कारगुजारियों को जनता से छुपाने के लिए भाजपा कांग्रेस पर मनगढ़ंत आरोप लगाने पर तुली है। उन्होंने कहा कि भाजपा और एआईयूडीएफ मिलकर चुनाव लड़ रही हैं। यहां तक कि दोनों ही पार्टियों के किस नेता को क्या कहना है, यह बात एक ही जगह लिखी जाती है। भाजपा जो स्क्रिप्ट तय करती है, एआईयूडीएफ नेता वही पढ़ देते हैं।


कांग्रेस नेता ने आरोप लगाया कि भाजपा नेतृत्व राजनीति में मृतप्राय होते जा रहे मौलाना अजमल को बार-बार जीवनदान देती रहती है। जहां तक कांग्रेस का सवाल है, वह भाजपा और आरएसएस को जिस नजरिये से देखती है, अगप को भी उसी तरह आंकती है। एक हिंदू ध्रुवीकरण और दूसरी मुस्लिम ध्रुवीकरण पर अमादा है।