भारतीय टीम के पूर्व क्रिकेटर अजय जडेजा इस बार अपने ऊपर लगे जुर्माने को लेकर चर्चाओं में हैं। दरअसल उत्तरी गोवा के एल्डोना गांव में उन पर कचरा फेंकने के लिए 5,000 रुपये का जुर्माना लगाया गया है। यह जुर्माना गांव के सरपंच द्वारा लगाया गया है। हालंकि क्रिकेटर ने जुर्माना भरने के लिए कोई दुख नहीं जताया, साथ ही यह भी कहा कि वे निकट भविष्य में इस गलती को कभी नहीं दोहराएंगे।

एक रिपोर्ट के मुताबिक, गांव की सरपंच तृप्ति बंदोदकर कहती हैं कि, हम अपने गांव में कचरे के मुद्दे से त्रस्त हैं। बाहर से भी कचरा गांव में डाला जाता है, इसलिए हमने एक व्यवस्था बनाई है, ताकि कचरा फेंकने वालों की पहचान की जा सके।' इस व्यवस्था के मुताबिक, कुछ युवाओं को कचरा बैग इकट्ठा करने के साथ-साथ दोषियों की पहचान करने और किसी भी सबूत के लिए स्कैन करने की जिम्मेदारी दी गई है।'

सरपंच आगे कहती हैं कि, हमें कचरे के कुछ बैगों में अजय जडेजा के नाम पर एक बिल मिला। बाद में 90 के दशक के लोकप्रिय क्रिकेटर ने बिना किसी हंगामे के जुर्माना भर दिया। हमें गर्व है कि ऐसे लोकप्रिय क्रिकेट खिलाड़ी हमारे गांव में रहता है, लेकिन ऐसे लोगों को कचरा मानदंडों का पालन करना चाहिए। बता दें कि जडेजा ने अपने इंटरनेशनल करियर में 15 टेस्ट खेले और उनमें 576 रन बनाए। जडेजा टेस्ट से ज्यादा वनडे में कामयाब रहे और उनके बल्ले से 196 मैचों में 6 शतकों और 30 फिफ्टी के साथ 5359 रन निकले।