डोकलाम विवाद के बाद एक बार फिर से भारत और चीन के बीच तनातनी का माहौल बन सकता है। जी हां दोनों देश फिर से आमने-सामने हो सकते हैं।


रणनीतिक रूप से बेहद संवेदनशील अरुणाचल प्रदेश के आसफिला क्षेत्र में भारतीय सेना की पट्रोलिंग को चीन ने अतिक्रमण करार दिया है और इस पर आपत्ति जताई है।


हालांकि भारतीय सेना की ओर से चीन की इन आपत्तियों को खारिज कर दिया गया है। एक आधिकारिक सूत्र ने इस बात की जानकारी दी है। उन्होंने बताया कि बीते 15 मार्च को बॉर्डर पर्सनेल मीटिंग के दौरान चीनी पक्ष की ओर से यह बात उठाई गई थी, जिसे भारतीय सेना ने खारिज कर दिया है।


भारतीय सेना ने कहा कि यह इलाका अरुणाचल प्रदेश के ऊपरी सुबानसिरी जिले में है और भारतीय सैनिक अकसर यहां पट्रोलिंग करते रहे हैं। सूत्रों ने पीटीआई से बताया कि चीनी पक्ष ने इस इलाके में भारतीय सैनिकों की पट्रोलिंग को अतिक्रमण करार दिया, जिस पर भारतीय सेना ने अपनी आपत्ति दर्ज कराई।


सूत्र ने कहा, 'आसफिला में पट्रोलिंग का चीन की ओर से विरोध किया जाना आश्चर्यजनक है।' उन्होंने कहा कि उल्टे चीनी सैनिक इस इलाके में अकसर घुसपैठ करते रहते हैं और भारतीय सेना ने इसे गंभीरता से लिया है।