चीन और ईरान में महामरी बना कोरोना वायरस पूरी दुनिया के लिए संकट के तौर पर उभर रहा है। इटली में कोरोना वायरस की वजह से 100 से ज्यादा लोगों की मौत हो गई है। यूरोपीय देशों में इटली पहला देश है, जहां कोरोना ने इतनी भीषण तबाही मचाई है। इटली में सभी स्कूल और विश्वविद्यालयों को सुरक्षा के मद्देनजर 15 मार्च तक के लिए बंद कर दिया गया है। अमरीका के वॉशिंगटन में नौ लोगों की मौत की जानकारी सामने आई है। इसके अलावा इराक में भी एक व्यक्ति की मौत की जानकारी मिली है।


इटली में कोरोना वायरस के कुल 3,000 मामले पॉजीटिव पाए गए हैं। 13 दिनों में कोरोना वायरस इटली में महामारी बना है। इटली में विशेषज्ञों ने लोगों से एक मीटर की दूरी बनाकर चलने और रहने की सलाह दी। स्थानीय प्रशासन ने सिनेमा और थिएटर को बंद रखने का आदेश दिया है। स्थानीय लोगों को हिदायत दी गई है कि न हाथ मिलाएं, न ही एक-दूसरे के साथ गले मिलें।


ईरान में 92 लोगों की हुई मौत
चीन और इटली के बाद कोरोना वायरस से सबसे ज्यादा प्रभावित देश ईरान है। ईरान में कोरोना वायरस के चलते अब तक कुल 92 लोगों की मौत हो गई है। ईरान में कोराना के कुल 2922 पॉजीटिव केस सामने आए हैं। कोरोना से चीन मध्य-पूर्व एशिया में कोरोना के कुल 3140 मामले सामने आ चुके हैं। कोरोना वायरस ने न केवल एशिया को अपनी जद में लिया है।