कोरोना काल में 9 महीने तक बंद रहने के बाद आज नेपाल के काठमांडू में स्थित प्रसिद्ध पशुपतिनाथ मंदिर के कपाट खुल गए हैं।  पशुपति एरिया डेवलपमेंट ट्रस्ट के मुताबिक़, कोरोना काल में लोगों की सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए और प्रोटोकॉल के तहत मंदिर को बंद किया गया था।  लेकिन अब मंदिर को खोल दिया गया है। 

पशुपतिनाथ मंदिर ट्रस्ट के सचिव प्रदीप ढकाल ने जानकारी साझा की कि, स्वास्थ्य सुरक्षा प्रोटोकॉल का पालन करते हुए, भक्तों को मंदिर के अंदर प्रार्थना करने की अनुमति दे दी गई है।  हालांकि मंदिर में भगवान पशुपति नाथ के दर्शन हेतु आने वाले भक्तों को कोरोना वायरस को देखते हुए जरूरी एहतियात बरतने की सलाह दी गई है। 

बता दें कि भक्तों को मंदिर में प्रवेश करते वक्त मास्क लगाना जरूरी होगा।  दर्शन के लिए क्यू यानी कि लाइन में खड़े भक्तों को एक दूसरे से कम से कम 2 मीटर की दूरी बनाकर रखनी होगी।  विकास कोष की तरफ से मंदिर में दर्शन के लिए आने वाले भक्तों हेतु सैनिटाइज की व्यवस्था की गई है।  उल्लेखनीय है कि वैश्विक महामारी कोरोना के कारण भगवान पशुपतिनाथ मंदिर के कपाट भक्तों के लिए 20 मार्च 2019 को बंद कर दिए गए थे। 

मंदिर प्रशासन के प्रदीप ढकाल ने बताया कि भले ही मंदिर खोला जा रहा है लेकिन अभी विशेष पूजा और सामूहिक भजन-कीर्तन की अनुमति नहीं होगी।  कोरोना के चलते इन साड़ी चीजों पर रोक लग गई थी लेकिन हम धीरे-धीरे विशेष पूजा, भजन और अन्य अनुष्ठानों को शुरू करेंगे।  हालांकि, मंदिर में स्वास्थ्य सुरक्षा प्रक्रियाओं को अपनाने के चलते फिलहाल इन्हें बंद ही रखा गया है।