बंगाल विधानसभा चुनाव (Bengal assembly elections) से पहले भाजपा में शामिल होने वाली बांग्ला अभिनेत्री श्राबंती चटर्जी (Bengali actress Shrabanti Chatterjee) ने गुरुवार को पार्टी छोड़ दी। वह मार्च-अप्रैल में हुए विधानसभा चुनाव में तृणमूल कांग्रेस (TMC) के दिग्गज उम्मीदवार व मंत्री पार्थ चटर्जी के खिलाफ कोलकाता की बेहला सीट से मैदान में उतरी थीं, जिसमें उन्हें 50,000 से ज्यादा वोटों से करारी हार का सामना करना पड़ा था।

वहीं, अभिनेत्री ने अब बंगाल के लिए काम करने में भाजपा के गंभीर नहीं होने का हवाला देते हुए अपने इस्तीफे की घोषणा की। जोरदार प्रचार के बाद भी राज्य में ममता बनर्जी को सत्ता से बेदखल करने में भाजपा की विफलता और अपनी हार के बाद से ही चटर्जी पार्टी से दूरी बना कर चल रही थीं। चटर्जी ने ट्वीट किया, पिछला चुनाव मैंने जिस पार्टी के टिकट पर लड़ा था, उससे मैं अपना संबंध खत्म कर रही हूं। पश्चिम बंगाल के मुद्दे को आगे बढ़ाने में पार्टी की पहल की कमी मेरे इस फैसले की वजह है।

इधर, भाजपा की बंगाल इकाई ने अभिनेत्री के पार्टी छोड़ने के निर्णय को ज्यादा तवज्जो नहीं देते हुए दावा किया कि इससे पार्टी पर बमुश्किल कोई फर्क पड़ेगा। प्रदेश भाजपा अध्यक्ष सुकांत मजूमदार ने कहा, मुझे नहीं पता कि वह चुनाव के बाद पार्टी के साथ थीं भी या नहीं। इसका पार्टी पर कोई असर नहीं पड़ेगा।