प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के अमेरिकी दौरे की शुरुआत हो चुकी है और गुरुवार देर रात (भारतीय समयानुसार) पीएम मोदी की अमेरिकी उपराष्ट्रपति कमला हैरिस से मुलाकात हुई। दोनों नेताओं ने इस दौरान भारत-अमेरिका के रिश्तों पर चर्चा की, वहीं दुनिया के अलग-अलग मुद्दों पर भी बात हुई। इनमें अफगानिस्तान का मसला भी शामिल रहा, जबकि कमला हैरिस ने आतंकवाद के मसले पर पाकिस्तान को लताड़ा।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और कमला हैरिस के बीच हुई ये पहली मुलाकात थी, इससे पहले दोनों नेता फोन पर बातचीत कर चुके थे। बैठक में भारत में कोरोना के हालात, वैक्सीनेशन और हेल्थ से जुड़े सामान की सप्लाई को लेकर चर्चा हुई। 

कमला हैरिस ने इस दौरान भारत की वैक्सीन सप्लाई को फिर से शुरू करने के लिए तारीफ की। इसके अलावा क्लाइमेट चेंज को लेकर भी पीएम मोदी ने भारत द्वारा उठाए जा रहे अहम कदमों के बारे में बताया, जिसमें नेशनल हाइड्रोजन मिशन भी शामिल है। दोनों नेताओं ने हेल्थकेयर और आईटी सेक्टर में भविष्य के सहयोग को लेकर बातचीत की।

पीएम मोदी और कमला हैरिस की मीटिंग के बारे में विदेश सचिव हर्ष श्रृंगला ने जानकारी दी कि जब बैठक में आतंकवाद का मसला आया, तब कमला हैरिस ने पाकिस्तान के रोल की बात की और एक्शन लेने की मांग की। हर्ष श्रृंगला के मुताबिक, कमला हैरिस ने माना कि पाकिस्तान में आतंकी ग्रुप एक्टिव हैं और इस्लामाबाद को उनके खिलाफ एक्शन लेना ही होगा। दोनों नेताओं ने इस दौरान अफगानिस्तान के हालात, दुनिया में लोकतंत्र की स्थिति को लेकर भी चर्चा की। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इस दौरान कमला हैरिस और उनके पति डगलस को भारत आने का न्योता दिया।