बबूल पेड़ के पत्ते, फूल और छाल का इस्तेमाल तो दवाओं में होता है लेकिन आप जानते हैं कि पेड़ से निकलने वाला गोंद (Acacia gum) भी सेहत के लिए फायदेमंद होता है। औषधीय गुणों से भरपूर बबूल का पेड़ से निकलने वाला गोंद कई बीमारी की असरदार दवा है। बबूल की गोंद (Benefits of Acacia gum) पोषक तत्वों का खज़ाना है, जिससे वजन को कंट्रोल करने के साथ ही पाचन को भी ठीक रखा जा सकता है। यह शुगर कंट्रोल (sugar control) करने में बेहद उपयोगी है।

आयुर्वेदिक औषधीय के रूप में काम करता है बबूल की गोंद, जो शुगर के मरीजों की शुगर कंट्रोल करती है। बबुल गोंद में मौजूद गुण बुरे कोलेस्ट्रॉल को कम करते हैं और अच्छे कोलेस्ट्रॉल (good cholesterol) को बढ़ाते हैं। बहुत से लोगों को वर्कआउट करने के बाद भी जिद्दी मोटापा से निजात नहीं मिलती ऐसे लोगों के लिए बबूल गोंद बेहद असरदार है। कई अध्ययनों में यह बात सामने आई है कि चार हफ्ते तक बबूल गोंद का उपयोग किया जाए तो बॉडी में वसा की मात्रा को कंट्रोल किया जा सकता है।

आजकल तनाव सबपर हावी है। तनाव से निजात पाने में बबूल गोंद बेहद असरदार है। इसमें मौजूद एंटीऑक्सीडेंट गुण तनाव को कम करते हैं। डायरिया की समस्या के जोखिम को कम करने के लिए बाबूल गोंद बेहद फायदेमंद होता है। इसका सीमित मात्रा में सेवन करने से बॉडी में पानी व इलेक्ट्रोलाइट का अवशोषण होता है। कैंसर के शुरूआती लक्षण को रोकने में बबूल गोंद बेहद उपयोगी है। यह कैंसर कोशिकाओं को बढऩे से रोकता है। आप इसका उपयोग दवा के रूप में कर सकते है। स्किन में खुजली, जलन और रूखेपन जैसी समस्या को ठीक करने में बबूल गोंद बेहद उपयोगी है। बबूल गोंद में मौजूद गुण एक्जिमा को ठीक करने में मदद करते है।